आईपीएल (IPL 2021) में शानदार प्रदर्शन कर चर्चा में आए युवा बल्‍लेबाज देवदत्‍त पडीक्‍कल (Devdutt Padikkal) को भारतीय टेस्‍ट टीम में जगह बनाने के लिए लंबा इंतजार करना होगा. ये हम नहीं कह रहे बल्कि ये कहना है भारतीय टीम के पूर्व मुख्‍य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद का. Also Read - BCCI को बड़ी राहत; IPL 2021 के सफल आयोजन के लिए CPL का शेड्यूल बदलने को तैयार हुआ क्रिकेट वेस्टइंडीज

देवदत्‍त पडीक्‍कल ने इस आईपीएल (IPL 2021) सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की तरफ से खेलते हुए अपना पहला आईपीएल शतक जड़ा. रॉजस्‍थान रॉयल्‍स के खिलाफ  उन्‍होंने ये धमाकेदार पारी खेली. पडीक्‍कल ने आईपीएल 2020 में भारत की इस टी20 लीग में शानदार डेब्‍यू किया था. Also Read - चीफ सेलेक्टर का बड़ा बयान, IPL छोड़ देंगे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी!

पडीक्‍कल  (Devdutt Padikkal) ने इस सीजन विजय हजारे ट्रॉफी में 737 रन बनाए थे. वो सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में दूसरे स्‍थान पर रहे. इस दौरान उनके बल्‍ले से चार शतक और तीन अर्धशतक जड़े थे. Also Read - विंडीज दौरे के लिए AUS टीम का ऐलान, IPL खेलने वाले इन क्रिकेटर्स ने वापस लिया नाम, भड़के चयनकर्ता

एमएसके प्रसाद ने स्पोटर्सकीड़ा से बातचीत के दौरान कहा, “पडीक्‍कल (Devdutt Padikkal) को भारतीय टेस्ट टीम का हिस्सा बनने के लिए घरेलू सत्र में एक और अच्छा साल बिताने की जरूरत है.”

“वह भविष्य के खिलाड़ी हैं इसमें कोई शक नहीं है लेकिन अगर आप टेस्ट क्रिकेट को देखें तो पडीकल को घरेलू क्रिकेट में एक और साल अच्छा प्रदर्शन करना होगा.”

विजय हजारे ट्रॉफी में पडीकल से आगे मुंबई के पृथ्वी शॉ थे जिन्होंने आठ पारियों में 827 रन बनाए थे.