नई दिल्ली. लॉर्ड्स वनडे में टीम इंडिया की हार का ठीकरा महेन्द्र सिंह धोनी पर फोड़ा गया. दस हजार वनडे रन जैसे बड़े माइल स्टोन को छूने के बाद भी धोनी आलोचकों का निशाना बनने से बच नहीं पाए. हालांकि, आलोचकों के निशाने पर आए धोनी को अपने कप्तान और बैटिंग कोच का पूरा साथ मिला. लेकिन, हेडिंग्ले में धोनी तैयार हैं अपने 4 सूत्री प्लान के साथ. इस प्लान के साथ धोनी न सिर्फ इंग्लैंड की हार की पटकथा लिखना चाहेंगे बल्कि ऐसा करते हुए उन आलोचकों के मुंह का शटर भी बंद करना चाहेंगे जिन्होंने दूसरे वनडे में हार के बाद उन्हें टारगेट किया था. Also Read - IPL 2020: ब्रायन लारा ने बताया- इस सीजन चेन्नई सुपरकिंग्स से कहां हो गई गलती!

Also Read - CSK vs KKR Highlights: रवींद्र जडेजा के छक्के से चेन्नई ने कोलकाता को 6 विकेट से हराया

तीसरे वनडे से पहले इंग्लैंड को ‘जोर का झटका’, टीम इंडिया के प्लेइंग XI में चेंज! Also Read - IPL 2020: 'MS Dhoni ने अपना दिल, दिमाग, पसीना और रातों की नींद CSK को दिया, वह अगले साल भी टीम की कमान संभाल सकते हैं'

अब पहले जरा वो वीडियो देख लीजिए जिसमें धोनी का 4 सूत्री प्लान कैद है और जिससे उसे समझने में आपको आसानी होगी.

फीजियो के साथ ट्रेनिंग

इस वीडियो के सबसे पहले हिस्से में धोनी टीम इंडिया के फीजियो और ट्रेनर के साथ अपनी फिटनेस को परख रहे हैं. वो स्ट्रेचिंग करते दिख रहे हैं.

रवि शास्त्री के साथ मीटिंग

वीडियो के दूसरे हिस्से में धोनी टीम के हेड कोच रवि शास्त्री और असिस्टेंट कोच संजय बांगड़ के साथ मैच की स्ट्रेटजी पर चर्चा कर रहे हैं.

हेडिंग्ले की पिच को पढ़ा!

शास्त्री और बांगड़ से गंभीर चर्चा के बाद धोनी चल देते हैं 22 गज की उस पट्टी की ओर जिस पर इंग्लैंड की हार की स्क्रिप्ट उन्होंने लिखने की ठानी है. धोनी हेडिंग्ले की पिच को पढ़ते हैं और फिर कुलदीप के साथ ऐसे पेश आते हैं जैसे उनसे ये कहना चाह रहे हों कि ये पिच खास उनकी गेंदबाजी के लिए ही है.

बल्लेबाजी का करारा अभ्यास

ये सबकुछ करने के बाद अब धोनी करते हैं वो काम जो इंग्लैंड को हराकर आलोचकों का मुंह बंद करने के लिए सबसे जरूरी है. वीडियो में धोनी अब अपनी बल्लेबाजी पर फोकस कर रहे हैं. वो गेंदों पर करारा प्रहार करने का अभ्यास कर रहे हैं. धोनी के इस अभ्यास का मतलब साफ है उनका इरादा रनों की बमबारी का है जो कि कहीं से भी इंग्लैंड के लिए अच्छी खबर नहीं है.