ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में मिली करीबी बार के बाद भारतीय कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) ने रहा कि अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी (Jhulan Goswami) से आखिरी गेंद ‘नो बॉल’ डालने की उम्मीद नहीं की थी। दूसरे वनडे में पांच विकेट से मिली हार के साथ टीम इंडिया तीन मैचों की सीरीज भी गंवा दी है।Also Read - वायरल सॉन्ग पर Smriti Mandhana ने भी लगाए ठुमके, देखें- Viral VIDEO

हारुप पार्क में खेले गए मैच में ऑस्ट्रेलिया को आखिरी गेंद पर तीन रन की जरूरत थी लेकिन ज्यादा ओस के कारण गोस्वामी के लिए गेंद पर नियत्रंण बनाना मुश्किल हो गया। उन्होंने कमर के ऊपर फुलटॉस गेंद फेकी जो निकोल कैरी के बल्ले से छूकर सीधे भारतीय फील्डर के हाथ में चली गई जिससे भारतीय खेमे ने जश्न मनाना शुरू कर दिया लेकिन टीवी अंपायर ने इसे ‘नो बॉल’ घोषित किया। जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने आखिरी गेंद पर दो रन बनाकर मैच के साथ सीरीज जीत ली। Also Read - ICC T20 Rankings: खत्‍म हुई शेफाली वर्मा की बादशाहत, स्‍मृति मंधाना नंबर-3 पर कायम

मिताली ने कहा, ‘‘मेरे लिए अंतिम गेंद काफी ‘नर्वस’ करने वाली थी क्योंकि इसमें कुछ भी हो सकता था, हमने ‘नो बॉल’ की उम्मीद नहीं की थी लेकिन य खेल का हिस्सा है और हम सभी बहुत उत्साहित थे। आज हमने जैसा प्रदर्शन किया, वैसा करना जारी रखेंगे।’’ Also Read - INDW vs AUSW, 3rd T20I: स्‍मृति मंंधाना को कप्‍तान बनाना चाहते हैं कोच रमेश पवार, समर्थन में दिया ये बयान

हार के बावजूद मिताली ने दोनों टीमों के खिलाड़ियों के प्रदर्शन की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ‘‘दोनों टीमों के लिए ये क्रिकेट का शानदार मैच था। मैच के दौरान करीब 550 रन बनाए गए, ये शानदार क्रिकेट प्रदर्शन था। हम फिर भी अगला मैच जीतना चाहते हैं। बल्लेबाजी विभाग ने शानदार काम किया, स्मृति और रिचा ने अच्छी बल्लेबाजी की। मेरे लिए अंतिम गेंद काफी नर्वस करने वाली थी क्योंकि कुछ भी हो सकता था।”