दुबई। ओपिंग बल्लेबाज दिमुथ करूणारत्ने चार रन से दोहरे शतक से चूक गए लेकिन उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी की बदौलत श्रीलंका ने दूसरे और अंतिम डे-नाइट क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन डिनर तक पाकिस्तान के खिलाफ सात विकेट पर 461 रन बनाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली. दिन का खेल खत्म होने तक पाकिस्तान ने बिना विकेट खोए 51 रन बनाए, समी असलम 30 और शॉन मसूद 15 रन बनाकर क्रीज पर हैं. पाकिस्तानी अभी श्रीलंका के पहली पारी के स्कोर से 431 रन पीछे हैं.Also Read - वेतन कटौती के बाद श्रीलंकाई क्रिकेटरों ने नया कॉन्ट्रेक्ट साइन करने से किया इंकार; खतरे में भारत का श्रीलंका दौरा

करुणारत्ने ने 105 गेंद की अपनी पारी में 19 चौकों और एक छक्के की मदद से 196 रन बनाए. उन्होंने कप्तान दिनेश चांदीमल (62) के साथ चौथे विकेट के लिए 146, निरोशन डिकवेला (52) के साथ पांचवें विकेट के लिए 88 और दिलरूवान परेरा (58) के साथ छठे विकेट के लिए 59 रन जोड़े. Also Read - Kusal Perera को मिली वनडे में श्रीलंकाई टीम की कमान, दिमुथ करुणारत्‍ने की छुट्टी, ये होंगे नए उपकप्‍तान

श्रीलंका ने दिन की शुरुआत तीन विकेट पर 254 रन के साथ की। करूणारत्ने 133 जबकि चांदीमल 49 रन से आगे खेलने उतरे. चांदीमल ने 156 गेंद में अर्धशतक पूरा किया जबकि करुणारत्ने ने 315 गेंद में 150 रन पूरे किए. यासिर शाह ने चांदीमल को आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा. करूणारत्ने को इसके बाद डिकवेला के रूप में उम्दा जोड़ीदार मिला. Also Read - Covid-19 पर बोले पाक कप्तान बाबर आज़म- इस भयावह समय में मेरी प्रार्थना भारत के लोगों के साथ

दोनों ने टीम का स्कोर 350 रन के पार पहुंचाया. डिकवेला ने सिर्फ 48 गेंद में पांच चौकों की मदद से अर्धशतक जड़ा लेकिन इसके तुरंत बाद मोहम्मद अब्बास की गेंद पर विकेटकीपर सरफराज अहमद को कैच दे बैठे. करुणारत्ने ने इसके बाद 184 रन के अपने पिछले सर्वोच्च स्कोर को पीछे छोड़ा लेकिन चार रन से अपने पहले दोहरे शतक से चूक गए. उन्हें वहाब रियाज ने बोल्ड किया. दिलरूवान भी अर्धशतक जड़ने के बाद यासिर की गेंद पर बोल्ड होकर उनका चौथा शिकार बने.