नई दिल्ली: श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चंदीमल ने अपनी जेब में जेली रखकर गेंद से छेड़छाड़ करने के आरोपों का खंडन किया है जबकि उनकी टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के चौथे दिन 287 रन की मजबूत बढ़त हासिल कर ली है. श्रीलंकाई कप्तान की अगुवाई में तीसरे दिन उनकी टीम मैदान पर नहीं उतरी थी जिसके कारण खेल दो घंटे देरी से शुरू हुआ था. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने चंदीमल के खिलाफ गेंद की शक्ल बिगाड़ने यानि गेंद से छेड़खानी करने के आरोपों की पुष्टि की है.

चंदीमल को टेस्ट मैच समाप्त होने के बाद सुनवाई का सामना करना होगा. अगर उन्हें दोषी पाया जाता है तो उन्हें शनिवार से बारबाडोस में शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच से निलंबित किया जा सकता है. आईसीसी ने गेंद से छेड़छाड़ के मामले में प्रतिबंध चार टेस्ट और आठ वनडे तक करने की सिफारिश की है लेकिन अभी इसे मंजूरी नहीं मिली है.

‘इंडिया ए’ ने ‘इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड XI’ को बुरी तरह हराया, पृथ्वी-श्रेयस ने जड़ा शानदार अर्धशतक

विवाद के केंद्र में होने के बावजूद श्रीलंकाई कप्तान ने मैदान पर एकाग्रता भंग नहीं होने दी और कुसाल मेंडिस के साथ पांचवें विकेट के लिये 117 रन की साझेदारी की जिससे श्रीलंका ने चार विकेट पर 48 रन की खराब शुरुआत से उबरकर चौथे दिन का खेल समाप्त होने तक आठ विकेट पर 334 रन बना लिये हैं. उसे अब 287 रन की बढ़त मिल चुकी है.

चंदीमल शाम के सत्र में 39 रन बनाकर आउट हुए लेकिन मेंडिस ने पारी संवारने का काम जारी रखा और टीम की तरफ से सर्वाधिक 87 रन बनाये. बाद में निरोशन डिकवेला ने 62 और रोशन डिसिल्वा ने 48 रन की उपयोगी पारियां खेलकर मैच में श्रीलंका का पलड़ा भारी कर दिया.

आशीष नेहरा के बेटे से मुकाबले में हारे सचिन तेंदुलकर, VIDEO वायरल

स्टंप उखड़ने के समय अकिला धनंजय 16 और सुरंगा लकमल सात रन पर खेल रहे थे. शैनोन गैब्रियल ने फिर से बेहतरीन गेंदबाजी की तथा 57 रन देकर छह विकेट लिये. वह इस तरह से अब तक मैच में दस विकेट ले चुके हैं. अपने करियर में उन्होंने पहली बार यह कारनामा किया. गैब्रियल अभी तक 116 रन देकर 11 विकेट हासिल कर चुके हैं जो वेस्टइंडीज की तरफ से श्रीलंका के खिलाफ सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. केमार रोच ने 75 रन देकर दो विकेट लिये हैं.