टीम इंडिया (Team India) से बाहर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) का कहना है कि वो टीम को जीत दिलाने के लिए  किसी भी मुश्किल परिस्थिति का हिस्सा बनने को तैयार हैं।

चेन्नई में आयोजित एक कायक्रम के दौरान इस सीनियर खिलाड़ी ने कहा, ‘‘मैंने कभी कुछ अलग करने की कोशिश नहीं की है। मैं खुद से कहता हूं कि खुद ही मैच जितांऊ। मैं उस स्थिति का हिस्सा बनना चाहता हूं ताकि युवाओं को आसानी हो।’’

कार्तिक ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि ये जरूरी है कि मैं अपने अनुभव और ताकत का इस्तेमाल कर टीम को मुश्किल परिस्थितियों से निकाल कर जीत तक ले जाऊं।’’

केरल T20I में स्‍थानीय फैन्‍स को इस लोकल ब्‍यॉय के प्‍लेइंग इलेवन में खेलने की उम्‍मीद

कार्तिक जो कि विश्व कप के लिए इंग्लैंड जाने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे, फिलहाल सीमित ओवर फॉर्मेट स्क्वाड में अपनी जगह रिषभ पंत के हाथों खो चुके हैं।

कार्तिक और उनकी पत्नी स्क्वाश खिलाड़ी दीपिका पल्लीकल चेन्नई में परिमल पैटर्न की 10वीं सालगिरह के मौके पर मौजूद थे जिसकी स्थापना भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ट्रेनर शंकर बासु ने की है। बासु कार्तिक के करीबी दोस्त भी हैं।