भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) के इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) का 13वां सीजन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किए जाने के बाद भी फैंस अपने चहेते टूर्नामेंट के आयोजन की आस लगाए बैठे हैं। हालांकि भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) का साफ कहना है कि इस साल आईपीएल का आयोजन नहीं हो सकेगा। Also Read - #SexBan: ब्रिटेन में सेक्स को लेकर नया कानून, शारीरिक संबंधों पर बैन, लोगों ने कहा जब सरकार ही...

स्पोर्ट्स तक से बातचीत में भारतीय क्रिकेटर ने कहा, “मैं इरफान भाई से भी बात से इंडियन प्रीमियर लीग की संभावना पर बात कर रहा था। मुझे नहीं लगता इस साल आईपीएल के लिए समय है। हमारा टी20 विश्व कप भी आगे बढ़ाया जा सकता है। सब कुछ रुक सा गया है। हमें सब फिर से शेड्यूल करना होगा। हमें देखना होगा कहां पर क्या आयोजन किया जाय। इसलिए मुझे नहीं लगता कि आईपीएल का आयोजन संभव है।” Also Read - पेसर मोहम्मद शमी बोले-हम अब भी सोचते हैं कि माही भाई आएंगे और...

बीसीसीआई हमेशा से ही मार्च अप्रैल विंडो में आईपीएल टूर्नामेंट का आयोजन करती है लेकिन इस साल कोविड-19 महामारी फैलने की वजह बोर्ड को अपनी इस महात्वाकांक्षी लीग को टालना पड़ा। और अब जैसे जैसे लॉकडाउन की अवधि बढ़ती जा रही, आईपीएल के आयोजन की उम्मीद टूट रही है। Also Read - कोरोना वायरस से हुई पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर की मौत, परिवार ने आनन-फानन में दफनाया

हालांकि शमी ने आगे ये भी कहा कि अगर लॉकडाउन जल्दी खत्म हो जाता है को साल के आखिर में आईपीएल का आयोजन किया जा सकता है। उन्होंने कहा, “हम इंतजार करना होगा और देखना होगा कि लॉकडाउन कब तक चलता है। अगर लॉकडाउन जल्दी खत्म हो जाता है, तो इस साल आईपीएल हो सकता है।”

अगर शमी के बयान के मुताबिक साल के आखिर में आईपीएल का आयोजन होता है टी20 विश्व कप को आगे बढ़ाना पड़ेगा। शमी भी चाहते हैं कि आईपीएल विश्व कप से पहले खेला जाय, ताकि खिलाड़ियों को इस विश्व टूर्नामेंट के लिए अभ्यास का अच्छा मंच मिल सके।

उन्होने कहा, “ये बेहतर होगा कि आईपीएल टी20 विश्व कप से पहले खेला जाय क्योंकि खिलाड़ी फॉर्मेट से आदी हो पाएंगे और लय में लौट सकेंगे। खिलाड़ी के शरीर को इसकी जरूरत होती है। हर खिलाड़ी को लय में लौटने के लिए समय की जरूरत होती है। खिलाड़ियों को शेप में वापस आने के लिए कम से कम एक महीना लग जाता है। 95 प्रतिशत खिलाड़ी घर में फंसे हुए हैं। वो ज्यादा कुछ नहीं कर सकते इसलिए उन्हें मैदान पर लौटने के लिए समय चाहिए होगा।”