इंदौर: दिल्ली क्रिकेट टीम को यहां से वापस ले जा रही उड़ान को तकनीकी खराबी के कारण रोकना पड़ा जिससे लंबा विलंब हुआ. इंडिगो की उड़ान संख्या 6ई-867 को दिल्ली के लिए कल रात नौ बजकर 20 मिनट पर रवाना होना था लेकिन विमान जब टेक आफ की तैयारी कर रहा था तो पायलट को इसे ब्रेक लगाकर रोकना पड़ा. Also Read - सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती हुए पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली

Also Read - Virat Kohli के कोच राजकुमार शर्मा को दिल्ली क्रिकेट में मिली बड़ी जिम्मेदारी

एयरलाइंस के अधिकारियों ने बताया कि इंजन में कुछ समस्या थी जिसके कारण देवी अहिल्या बाई एयरपोर्ट पर टेकआफ रोकना पड़ा. अंतिम लम्हों में पायलट के टेक आफ टालने के बाद एयरलाइंस अधिकारियों ने विमान में सवार लोगों के ठहरने की व्यवस्था की जिसमें क्रिकेटर और टीम का सहयोगी स्टाफ भी शामिल था. यह भी पढ़ें: विराट ने किया खुलासा, अपनी पहली डेट में पांच मिनट में ही भाग खड़े हुए थे Also Read - Ind vs Aus: BCCI ने पोस्ट किया ऋद्धिमान साहा का फिटनेस अपडेट; देखें वीडियो

सवारियों ने उस समय राहत की सांस ली जब फ्लाइट कैप्टन ने घोषणा की कि सबको उतरना होगा क्योंकि जरूरी मेंटनेंस जांच के बाद पता चला है कि विमान में समस्या है. विमान में सवार क्रिकेटर उन्मुक्त चंद ने ट्वीट करके बताया, इंडिगो की उड़ान संख्या 867 को रनवे पर तकनीकी कारणों से रोकना पड़ा. अब इंदौर हवाई अड्डे पर फंसे हैं.

जल्द ही होटल पहुंचने की उम्मीद है. लोगों के लिए हताशा भरा. मैं बहस का लुत्फ उठा रहा हूं. ऐसे हालत में आप अधिक कुछ नहीं कर सकते. इसकी जगह इसे स्वीकार कीजिए. शांत रहिए. खुशी है कि सब सुरक्षित हैं. दिल्ली की टीम विदर्भ के खिलाफ रणजी ट्राफी फाइनल खेलने के बाद वापसी लौट रही थी.

कप्तान ऋषभ पंत, उन्मुक्त चंद, फाइनल में शतक जड़ने वाले ध्रुव शौरी, मध्यक्रम के बल्लेबाज नितीश राणा, विकास टोकस और आकाश सूदन विमान में सवार खिलाड़ियों में शामिल थे. कोच केपी भास्कर, चयनकर्ता हरि गिडवानी और मैनेजर शंकर सैनी भी विमान में थे. टीम के सबसे सीनियर खिलाड़ी गौतम गंभीर पहले ही जा चुके थे. दिल्ली को फाइनल में नौ विकेट से हार का सामना करना पड़ा.