कोलंबो: कंधे की चोट के कारण श्रीलंका दौरे पर वनडे सीरीज से बाहर हुए दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस के स्थान पर क्विंटन डी कॉक को वनडे और ज्यां पॉल ड्यूमिनी को टी-20 टीम का कप्तान बनाया गया है. आईसीसी की वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, डी कॉक अब कैंडी और कोलंबो में होने वाले दो वनडे मैचों में मेहमान टीम की कमान संभालेंगे जबकि ड्यूमिनी कोलंबो में होने वाले एकमात्र टी-20 मैच में टीम की अगुवाई करेंगे. Also Read - विदेशी कप्तानों को शामिल करने की महेंद्र सिंह धोनी की रणनीति बनी चेन्नई सुपर किंग्स की सफलता का कारण के : फाफ डु प्लेसिस

Also Read - IND v SA, Ranchi Test : टीम इंडिया चाहे क्लीनस्वीप, डु प्लेसिस की नजर 40 अंक पर

डी कॉक ने दक्षिण अफ्रीका के लिए अब तक किसी भी प्रारूप में कप्तानी नहीं की है. लेकिन, 2012 में वह अंडर-19 टीम के कप्तान थे और कोच ओटिस गिब्सन को उम्मीद है कि डी कॉक कप्तानी के लिए फिट हैं. Also Read - 'पानी पिलाने' और 'जूते खाने' वाले ने चमकाई चेन्नई की किस्मत, धोनी बोले- 'वाह'

दूसरे टेस्‍ट से पहले टीम इंडिया को झटका, नहीं खेल पाएगा ये गेंदबाज

ड्यूमिनी इससे पहले भी राष्ट्रीय टीम की कप्तानी कर चुके हैं. इस वर्ष भारत के खिलाफ हुए तीन मैचों की घरेलू सीरीज में उन्होंने डु प्लेसिस की जगह टी-20 में टीम की कप्तानी की थी. दक्षिण अफ्रीकी टीम पांच मैचों की वनडे सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल किए हुई है.

लॉर्ड्स टेस्ट के लिए गेंदबाजी कोच की राय सुनील गावस्कर से पूरी तरह अलग

डु प्लेसिस तीसरे वनडे मैच में फील्डिंग करते हुए 10वें ओवर में एक कैच पकड़ते समय गिर पड़े थे और उन्हें दाएं कंधे में चोट लग गई. इस कारण वह इलाज के लिए तुरंत मैदान से बाहर चले गए थे. प्लेसिस की चोट को ठीक होने में कम से कम छह सप्ताह का समय लगेगा.