पिछले साल (2018) इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा करने वाले वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी का ऐलान किया है. ब्रावो ने विंडीज की टी-20 टीम में चयन के लिए खुद को उपलब्ध बताया है.

विशाखापत्तनम वनडे से पहले टीम इंडिया से जुडेंगे जसप्रीत बुमराह, विराट-रोहित को होगा फायदा

ब्रावो ने कहा कि वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड की सत्ता में बदलाव के कारण उन्होंने मन बदला है. पूर्व टीम मैनेजर रिकी स्केरिट अब डेव कैमरन की जगह बोर्ड के नए अध्यक्ष बने हैं.

36 वर्षीय ब्रावो ने बयान में कहा, ‘मैं आज इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी की घोषणा करता हूं. इसमें कोई दो राय नहीं है कि मैंने प्रशासनिक सुधारों के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी का फैसला किया है. मैं कुछ समय से इस बारे में सोच रहा था और सकारात्मक बदलावों ने मेरे फैसले को मजबूत किया. मैं सेलेक्टर्स को बता देना चाहता हूं कि मैं टी-20 टीम में चयन के लिए उपलब्ध हूं.’

कैमरन के साथ हुआ था झगड़ा

ब्रावो का कैमरन के साथ झगड़ा हुआ था जिन पर उन्होंने कैरियर तबाह करने का आरोप लगाया था. यह वाकया 2014 में हुआ था जब ब्रावो की अगुवाई वाली वेस्टइंडीज टीम बोर्ड के साथ भुगतान विवाद के कारण भारत दौरा बीच में छोड़कर चली गई थी.

विंडीज के लिए 40 टेस्ट, 164 वनडे और 66 टी-20 खेल चुके हैं ब्रावो

ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए 40 टेस्ट, 164 वनडे और 66 टी20 खेले. वह चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आईपीएल खेलते हैं. इसके अलावा पीएसएल, बिग बैश लीग, कैरेबियाई प्रीमियर लीग, कनाडा लीग और अबुधाबी टी-10 लीग भी खेले.

अनिल कुंबले ने श्रेयस अय्यर की बल्लेबाजी क्रम को लेकर दिया ये बयान, गेंदबाजों को चेताया

टेस्ट मैचों में ब्रावो के नाम 2,200 रन और 86 विकेट दर्ज हैं वहीं वनडे में उन्होंने 2,968 रन बनाए हैं और 199 विकेट चटकाए हैं. टी-20 इंटरनेशनल में इस स्टार ऑलराउंडर ने 1,142 रन बनाने के साथ-साथ 52 विकेट चटकाए हैं.

2016 में खेला आखिरी इंटरनेशनल मैच

इंटरनेशनल क्रिकेट में ब्रावो ने आखिरी मैच सितंबर 2016 में आबुधाबी में पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 खेला था. उस मैच में पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हराया था. ब्रावो ने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2010 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था जबकि वनडे मुकाबला भारत के खिलाफ 2014 में आखिरी बार खेला था.