संन्यास के बाद वेस्टइंडीज राष्ट्रीय टीम में वापसी करने वाले स्टार ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो (Dwayne Bravo) का कहना कि मौजूदा विंडीज टीम साल 2016 में टी20 विश्व कप जीतने वाले टीम से बेहतर है। Also Read - इंग्लैंड दौरे पर जाने से कतरा रही हैं वेस्टइंडीज, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया टीमें

ब्रावो ने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ से बातचीत में कहा, ‘‘श्रीलंका में पिछली सीरीज के दौरान हमारी टीम बैठक हुई और कोच फिल (सिमंस) ने खिलाड़ियों की सूची बल्लेबाजी क्रम में बनाई और उन्होंने मेरा नाम नौवें स्थान पर लिखा। और मैंने साथी खिलाड़ियों से कहा, सुनिए, मुझे नहीं लगता कि मैं कभी ऐसी टी20 टीम का हिस्सा रहा जब मुझे नौवें नंबर पर बल्लेबाजी करनी पड़ी हो।’’ Also Read - कोहली-स्मिथ जैसा बल्लेबाज बनने के करीब हैं बाबर आजम : मिसबाह उल हक

उन्होंने कहा, ‘‘मैं हमारे बल्लेबाजी क्रम से बेहद प्रभावित था और मैंने साथी खिलाड़ियों से कहा कि सुनो, मुझे लगता है कि ये टीम असल में हमारी विश्व कप विजेता टीम से बेहतर है और ये कोई मजाक नहीं है, क्योंकि हमारी बल्लेबाजी 10वें नंबर तक है।’’ Also Read - शिखर धवन ने कहा- अगर IPL हुआ तो काफी सकारात्मकता लेकर आएगा ये टूर्नामेंट

ब्रावो ने पिछले साल दिसंबर में अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट संन्यास से वापसी कर विंडीज टीम में वापसी की। हालांकि टीम का बल्लेबाजी क्रम पहले से ही मजबूत होने की वजह से ब्रावो ऑलराउंडर के बजाय बतौर स्पेशलिस्ट गेंदबाज खेल रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ये विरोधी को डराने वाली टीम है और ये मुझे रोमांचित करता है। इसलिए मैं गेंदबाज के रूप में अपना काम करूंगा, पारी के बाद के ओवरों को नियंत्रित करने का प्रयास, खासकर पारी के अंत में डेथ गेंदबाजी के दौरान जो कि पिछले काफी समय में हमारे लिए थोड़ी चिंता का सबब रहा है।’’

जनवरी में आयरलैंड के खिलाफ वापसी करने वाले ब्रावो ने कहा, ‘‘आपने देखा कि ओशेन थॉमस ने अपनी गति के साथ श्रीलंका में क्या किया। आपके पास शेल्डन कोटरेल भी है जो आक्रमण का अगुआ है, केसरिक विलियम्स बेंच पर है इसलिए चीजें एक बार फिर अच्छी लग रही हैं।’’

ब्रावो ने कप्तान कीरोन पोलार्ड की भी तारीफ की जिन्होंने पिछले साल सीमित ओवरों की टीम की कमान संभाली थी।उन्होंने कहा, ‘‘उसे (पोलार्ड को) जीतना पसंद है। यह सबसे महत्वपूर्ण चीज है और एक कप्तान के रूप में वह जीतने के लिए कुछ भी करता है, सही तरीके और सही भावना से और वह जीतने के लिए प्रतिबद्ध है, अंतर पैदा करने के लिए।’’