कोलकाता. भारत के दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी और देश के लिए पहला क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने वाले पूर्व कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) को देशभर में सम्मान की नजर से देखा जाता है. न सिर्फ क्रिकेट, बल्कि अन्य खेलों के खिलाड़ी भी कपिल देव को भारतीय खेल जगत की बड़ी हस्ती मानते हैं. यही वजह है कि फुटबॉल के लिए मशहूर पश्चिम बंगाल के ईस्ट बंगाल क्लब (East Bengal Football Club) ने अपने स्थापना दिवस के मौके पर महान क्रिकेटर को सम्मानित करने का निर्णय लिया है. यह गौरतलब है कि कपिल देव ने क्रिकेट के अलावा इस क्लब के लिए एक प्रदर्शनी मैच में फुटबॉल भी खेला था.

फुटबाल क्लब ईस्ट बंगाल आगामी एक अगस्त को अपना स्थापना दिवस मनाने जा रहा है. इस अवसर पर वह विश्व कप विजेता भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव को अपने सर्वोच्च सम्मान ‘भारत गौरव’ से सम्मानित करेगा. ईस्ट बंगाल क्लब इसके अलावा स्टार फुटबॉलर बाईचुंग भुटिया (Baichung Bhutia) को भी विदाई सम्मान देना चाहती है. अपनी कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम को वर्ष 1983 में उसका पहला विश्व कप जिताने वाले कपिल ने 22 जून 1992 को ईस्ट बंगाल के साथ करार किया था और इसके छह दिन बाद वह मोहन बागान के खिलाफ प्रदर्शनी मैच में स्थानापन्न स्ट्राइकर के रूप में खेले थे.

ईस्ट बंगाल के कार्यकारी समिति के सदस्य देबब्रत सरकार ने कहा, “भुटिया ने अंतर्राष्ट्रीय फुटबाल से संन्यास की घोषणा की थी ना कि क्लब फुटबाल से. ईस्ट बंगाल के शताब्दी वर्ष में उन्होंने पांच मिनट तक खेलने और क्लब फुटबाल से संन्यास लेने की घोषणा करने की इच्छा जताई.” ईस्ट बंगाल साथ ही मनोरंजन भट्टाचार्य और भास्कर गांगुली को लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित करेगा. इसके अलावा दिग्गज पी के बनर्जी को ‘प्रशिक्षकों के प्रशिक्षक’ पुरस्कार प्रदान किया जाएगा.

(इनपुट – एजेंसी)