अपनी घातक गेंदबाजी के दुनिया भर के बल्लेबाजों को डराने वाले पूर्व विंडीज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग (Michael Holding) एक इंटरव्यू के दौरान नस्लवाद के मुद्दे पर बात करते हुए भावुक हो गए। इंग्लैंड-वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज के दौरान स्काई न्यूज के रिपोर्टर मार्क ऑस्टिन के साथ बातचीत के दौरान होल्डिंग अपने आंसुओं को रोक नहीं पाए।Also Read - World Test Championship 2021-23 Points Table: तीसरे स्‍थान पर खिसका भारत, यहां देखें पूरी लिस्‍ट

बुधवार को, मैच के पहले दिन होल्डिंग ने कहा था कि नस्लवाद को खत्म करने के लिए समाज में बदलाव लाना जरूरी है, जिसके लिए शिक्षा सबसे अचूक रास्ता है। Also Read - AUS vs NZ: नस्‍लवाद के गंभीर आरोपों पर Joe Root की सफाई, एशेज के बाद करेंगे Azeem Rafiq से मुलाकात

गुरुवार को इंटरव्यू के दौरान भी होल्डिंग इसी मुद्दे पर बात कर रहे थे लेकिन जब अचानक अपने माता-पिता को याद कर ये पूर्व गेंदबाज काफी भावुक हो गया। Also Read - IPL 2022 Retention List: एक दिन पहले भी रिटेन क्रिकेटर्स का खुलासा नहीं कर रही है फ्रेंचाइजी, इन्‍हें लेकर है उलझन

होल्डिंग ने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो जब मैं अपने माता-पिता के बारे में सोचना शुरू करता हूं तो भावुक हो जाता हूं। और अभी फिर से ऐसा हो रहा है।”

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “मार्क, मुझे पता है कि मेरे माता-पिता किन हालातों से गुजरे थे। मेरे मां के परिवार ने उनसे बात करना बंद कर दिया था क्योंकि उनका पति अश्वेत था। मुझे पता है कि उन्होंने क्या झेला और वो सब मुझे याद आ गया।”

अपने आंसू पोंछते हुए होल्डिंग ने आगे कहा, “ये बेहद धीमी प्रक्रिया होगा लेकिन मुझे उम्मीद है (कि बदलाव होगा)। भले ही छोटे-छोटे कदम बढ़ाए जाएं, भले ही हम कछुए की गति से चलें लेकिन मुझे उम्मीद है कि हम सही दिशा में आगे बढ़ते रहेंगे। चाहे धीमी गति से ही सही, मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता।”