नई दिल्ली. बॉल टेंपरिंग कांड ने स्टीव स्मिथ को तोड़कर रख दिया है. केपटाउन में हुए बॉल टेंपरिंग बवाल के बाद टूटे मन के साथ स्मिथ जब सिडनी पहुंचे तो उनका दर्द आंसू बनकर दुनिया के सामने छलक पड़ा. सिडनी में स्मिथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें वो फूट-फूटकर रोए. स्मिथ को अपने किए का पछतावा था और इसके लिए उनके आंसू थमे नहीं थम रहे थे. प्रेस कॉन्फ्रेंस में बतौर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान उन्होंने पूरे बॉल टेंपरिंग कांड की जिम्मेदारी ली और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट फैंस से सॉरी कहा. स्मिथ ने कहा, ”मुझसे बड़ी गलती हुई है. ये मेरी कप्तानी की सबसे बड़ी भूल है. अब इस भूल को सुधारने के लिए मुझे जो करना होगा मैं करूंगा. ” Also Read - CSK vs RR: राजस्‍थान की जीत में इन पांच खिलाड़ियों ने निभाई अहम भूमिका

स्मिथ ने आगे कहा, ” अगर मुझे सजा देने से दूसरों को सबक मिलता है तो ये अच्छी बात हैं. मुझे मालूम है कि इस गुनाह का मलाल मुझे ताउम्र रहेगा.” सिडनी एयरपोर्ट पर किए प्रेस कॉन्प्रेंस में स्मिथ ने कहा, “मैं दो- तीन बातें कहूंगा. पहला, दिल से सॉरी. दूसरा, मुझे क्रिकेट से प्यार हैं और मैं इसे बचपन से इंज्वॉय कर रहा हूं. मैं एक ऐसा बच्चा रहा हूं जो क्रिकेट को दिल से खेलता है और उसे पसंद करता है. ”

 

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान स्मिथ ने जोर देते हुए कहा कि कई बार जब हम ऐसे फैसले करते हैं जिस पर सवाल खड़े हो सकें तो हमें ये भी देखना चाहिए कि उसका हमपर और हमारे परिवार पर कितना असर पड़ेगा. ऐसा कहते हुए स्मिथ के आंखों से आंसू निकल पड़े. उन्होंने कहा, ” मैंने बुजुर्गों का दिल दुखाया है. मैं उन्हें उस दर्द के लिए सॉरी कहना चाहता हूं जिसे मैं केपटाउन से ऑस्ट्रेलिया लेकर आया हूं. मैं उन सबसे माफी मांगता हूं जो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के फैन हैं. ”

 

स्मिथ ने कहा, ” मुझे उम्मीद है कि समय के साथ मुझे लोग माफ कर देंगे. अपने देश की कप्तानी करना गर्व की बात होती है और मुझे नाज था कि मैं ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की कप्तानी कर रहा था.” उन्होंने कहा, ” क्रिकेट दुनिया का सबसे बड़ा खेल हैं. ये मेरी जिंदगी हैं और उम्मीद करता हूं कि मैं इसे फिर खेलूंगा.”

 

बता दें कि केपटाउन में बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ पर 12 महीने का बैन लगाया है. यानी पूरे 1 साल वो इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर रहेंगे. बैन के बाद बॉल टेंपरिंग कांड में फंसे तीनों खिलाड़ियों स्मिथ, वॉर्नर और बेनक्रॉफ्ट को साउथ अफ्रीका से ऑस्ट्रेलिया वापस भेज दिया. ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद स्मिथ ने ये प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें वो ना सिर्फ रोए बल्कि केपटाउन टेस्ट में अपने किए के लिए माफी भी मांगी.

स्मिथ के अलावा बॉल टेंपरिंग कांड में फंसे दूसरे क्रिकेटर कैंरून बेनक्रॉफ्ट ने भी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट फैंस से माफी मांगी हैं और कहा है कि उन्हें अपने किए पर पछतावा है.

 

बॉल टेंपरिंग के लिए बेनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का बैन लगा है. इस मांमले में फंसे तीसरे खिलाड़ी डेविड वॉर्नर पहले ही ट्वीट के जरिए क्रिकेट फैंस से माफी मांग चुके हैं.