न्यूजीलैंड की टीम इंग्लैंड के खिलाफ 2 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी. 2 जून से शुरू होने वाली इस सीरीज को न्यूजीलैंड के लिए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) की तैयारी के लिए अच्छा अवसर माना जा रहा है. लेकिन इंग्लैंड की योजनाओं से उसे थोड़ा झटका लग सकता है. इंग्लैंड के क्रिकेट निदेशक एश्ले जाइल्स (Ashley Giles) ने मंगलवार को कहा कि वह इस आगामी सीरीज में अपने नए खिलाड़ियों को मौका देना पसंद करेगा. Also Read - माइकल वॉन: भारत के खिलाफ ग्रीन-टॉप पर खेलने से इंग्‍लैंड को नहीं होने वाला फायदा, ऐसे तो...

अगर कीवी टीम के खिलाफ मेजबान इंग्लैंड अपनी पूरी क्षमता वाली टीम उतारता तो वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप जैसी बड़े मैच के लिए उसे पुख्ता तैयारी का मौका मिलता. लेकिन युवा चेहरों को शामिल करने का मतलब है कि जैसे वह इंग्लैंड की बी टीम के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियशिप जैसे बड़े मैच की तैयारी से पहले वॉर्म अप मैच ही खेल रही है. Also Read - ENG vs NZ: दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड की हालत पतली, 258 पर 7 बल्लेबाज आउट

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) के क्रिकेट निदेशक एश्ले जाइल्स ने कहा कि इंग्लैंड अगले महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में नए चेहरों को मौका दे सकता है. उन्होंने कहा, ‘कोरोना को देखते हुए हमें अभी नहीं पता कि एशेज में उस वक्त क्या होगा. लेकिन हम बड़ा ग्रुप भेजेंगे.’ Also Read - ऑली रॉबिन्सन विवाद पर Michael Holding बोले- मिलना चाहिए दूसरा मौका

इंग्लैंड को न्यूजीलैंड के खिलाफ दो और 10 जून को दो टेस्ट मैचों की सीरीज जी मेजबानी करनी है. जाइल्स ने कहा, ‘न्यूजीलैंड के खिलाफ हम नए चेहरों को मौका दे सकते हैं. हमें कई और मुकाबले खेलने हैं लेकिन एशेज को देखते हुए हम ऐसा कर सकते हैं.’

उन्होंने कहा, ‘यह न्यूजीलैंड के खिलाफ जाएगा कि नहीं, यह मुझे नहीं पता. यह ऐसा है, जिसके बारे में हमें लगातार चर्चा करने की जरूरत है.’