कोराना काल में अगले महीने से विंडीज और इंग्‍लैंड (England vs West Indies) के बीच टेस्‍ट सीरीज की शुरुआत होने जा रही है. वेस्‍टइंडीज की टीम इंग्‍लैंड पहुंच चुकी है. वेस्टइंडीज के गेंदबाजी कोच रॉडी एस्टविक ने कहा कि मौजूदा समय में उनकी टीम का तेज आक्रमण बहुत अच्छी है और यह 80 और 90 के दशक के मशहूर कैरेबियाई तेज गेंदबाजों की तरह खतरनाक साबित हो सकता है. Also Read - England vs West Indies 2nd Test : मैनचेस्टर टेस्ट में ये हो सकता है दोनों टीमों का प्लेइंग XI, जानें मौसम का हाल

वेस्टइंडीज को आठ जुलाई से इंग्लैंड दौरे पर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. कोच ने कहा कि उनका तेज आक्रमण किसी भी टीम को चुनौती दे सकता है. Also Read - England vs West Indies 2nd Test Live Streaming: जानें, कब और कहां देख सकेंगे इंग्लैंड और विंडीज के बीच दूसरे टेस्ट का LIVE मैच

वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड दौरे पर होने वाली सीरीज के लिए जेसन होल्डर, केमार रोच, अल्जारी जोसेफ, चेमार होल्डर और ओशाने थॉमस जैसे तेज गेंदबाजों को टीम में शामिल किया गया है. Also Read - 'इस विस्फोटक विकेटकीपर बल्लेबाज की जगह खतरे में, करियर बचाने के लिए करना होगा अब ये काम'

डेली मेल ने इस्टविक के हवाले से कहा, ” हमारी गेंदबाजी हमारे लिए अहम होंगे और हम कैरेबियाई में फिर से तेज गेंदबाजों के साथ इसकी शुरूआत करेंगे. मुझे लगता है कि उस शानदार दिनों के बाद से यह सबसे अच्छा समूह है. हमें कई तेज गेंदबाज मिले हैं, जिससे हमें लगता है कि वे दुनिया की किसी भी टीम को चुनौती दे सकते हैं और यह एक रोमांचक समय है.”

“आपको उन शानदार गेंदबाजों को सम्मान देना होगा, लेकिन मौजूदा तेज गेंदबाजों को अपनी पहचान खुद बनानी होगी. जब मैं 80 के दशक में खेलता था तो उस समय हमारे पास काफी शानदार तेज गेंदबाज थे.”