लंदन: विश्व कप विजेता इंग्लैंड क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर अवार्ड लेने से मना कर दिया है. स्टोक्स का मानना है कि यह अवार्ड न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन जैसे दिग्गजों को मिलना चाहिए. स्टोक्स ने एक बयान में कहा, “मैं ‘न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर’ के लिए नामित होने पर काफी खुश हूं. मुझे अपनी न्यूजीलैंड और माओरी विरासत पर गर्व है लेकिन इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए मुझे नामांकित करना सही नहीं होगा. ऐसे लोग हैं जो इस अवॉर्ड के असली हकदार हैं और उन्होंने न्यूजीलैंड देश के लिए बहुत कुछ किया है.” Also Read - Jofra Archer ने की वकालत, क्या इस बॉलर को मिलेगी टेस्ट टीम में जगह?

Also Read - England के कोच Chris Silverwood का बड़ा बयान, इस सीरीज के बाद लेंगे ब्रेक

इंग्लैंड के जिस खिलाड़ी ने छीना वर्ल्डकप, अब उसी को सिर आंखों पर बैठा रहा न्यूजीलैंड, ये है वजह Also Read - विराट कोहली के बराबर हैं केन विलियमसन लेकिन सोशल मीडिया लाइक्स के लिए भारतीय कप्तान को सर्वश्रेष्ठ कहते हैं लोग: वॉन

स्टोक्स न्यूजीलैंड के पूर्व रग्बी खिलाड़ी और कोच गेरार्ड स्टोक्स के बेटे हैं. बेन स्टोक्स को आईसीसी विश्व कप-2019 के फाइनल में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला था. स्टोक्स 12 साल की उम्र में ही इंग्लैंड में बस गए थे. स्टोक्स ने विलियम्सन के नामित होने का समर्थन किया और कहा कि वह अपना वोट न्यूजीलैंड के कप्तान को देते हैं.

पिता कर रहे थे न्यूजीलैंड के जीतने की दुआ, ‘सुपरमैन’ बेटे ने इंग्लैंड को जिता दिया वर्ल्ड कप

स्टोक्स ने कहा, “मुझे लगता है कि पूरे देश को न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन को अपना समर्थन देना चाहिए. वे कीवी लीजेंड हैं. उन्होंने इस विश्व कप में अपनी टीम का नेतृत्व गौरव और सम्मान के साथ किया. वह प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट और अपने लोगों के लीडर हैं.” हरफनमौला खिलाड़ी स्टोक्स ने आगे कहा, “वह (विलियम्सन) हर स्थिति में विनम्रता और सहानुभूति दिखाते हैं. वह एक ऑलराउंड दिग्गज हैं. उन्हें देखकर लगता है कि एक न्यूजीलैंडर होना क्या होता है. वह इस अवॉर्ड के असली हकदार हैं. न्यूजीलैंड, उनका पूरा समर्थन करता है. वह इसके हकदार हैं और मेरा वोट भी उनके साथ ही है.”