लंदन: इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने माना जिस तरह से विश्व कप-2019 का समापन हुआ वो उचित नहीं था. मेजबान टीम ने बाउंड्री के आधार पर न्यूजीलैंड को मात देकर पहली बार टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया था. फाइनल में निर्धारित 50 ओवर और सुपर ओवर के बाद भी दोनों टीमों का स्कोर बराबर था. Also Read - बिहार प्रशासन की फजीहत, इंग्लैंड से पटना लौटे 96 लोगों में से 71 हुए गायब

‘द टाइम्स’ ने मॉर्गन के हवाले से बताया कि मैं नहीं समझता कि दोनों टीमों के बीच बहुत कम अंतर होने के बाद उस तरह से खिताब का फैसला करना उचित था. मैं नहीं समझता कि ऐसा एक पल था कि आप कह सकते हैं कि उसकी वजह से मैच में हार झेलनी पड़ी. मुकबला बराबर का था. मोर्गन ने कहा कि मैं वहां था और मैं जानता हूं कि क्या हुआ. लेकिन मैं ऊंगली उठाकर यह नहीं बता सकता कि कहां मैच जीता या हारा गया. मैं नहीं समझता कि विजेता बनने से यह आसान हो गया है. जाहिर तौर पर हार झेलना बहुत कठिन होता. Also Read - 'तो फिर कप्तान की क्या जरूरत': इंग्लैंड टीम की प्लेकार्ड रणनीति पर लक्ष्मण ने दिया ये बयान

उन्होंने कहा कि मैच में कोई एक ऐसा पल नहीं था कि हम कहते कि ‘हां हम जीत के हकदार हैं’. मैच बहुत रोमांचक रहा. इंग्लैंड की टीम अगस्त में आस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रतिष्ठित एशेज सीरीज खेलेगी. Also Read - Pc Skye Morden: 19 साल तक पुरुष बनकर की पुलिस की नौकरी, अब खुद को बताया महिला; हर कोई हैरान