मैनचेस्टर: इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने कहा है कि आस्ट्रेलिया से एशेज गंवाने के बाद भी उनका मन अपने पद से हटने का नहीं है और वो टेस्ट कप्तान के तौर पर काम करना जारी रखना चाहते हैं. आस्ट्रेलिया ने ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेले गए चौथे टेस्ट को जीत पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 का अजेय बढ़त ले ली है. वेबसाइट ईएसपीएन क्रिकइंफो ने रूट के हवाले से लिखा है, “मैं निश्चित रूप से कप्तान के तौर बने रहना चाहता हूं. मुझे टेस्ट टीम की कप्तानी करने का अच्छा मौका मिला है और मैं ऐसा करना जारी रखूंगा. मैं सर्वश्रेष्ठ देने के लिए कड़ी मेहनत करूंगा.”

रूट हार से निराश हैं लेकिन उन्होंने कहा है कि इस मैच के अंतिम दिन इंग्लैंड ने जो संघर्ष दिखाया है वो भविष्य के लिए प्रोत्साहन का काम करेगा. उन्होंने कहा, “एशेज हार को पचा पाना मुश्किल है. यह बेहद निराशाजनक है, लेकिन जब आप अपने आप को इस तरह की स्थिति में पाते हो तो अपनी टीम और खिलाड़ियों के बारे में काफी कुछ सीखते हो. मुझे लगता है कि सभी ने हिम्मत दिखाई. आखिरी दिन खिलाड़ियों ने जिस तरह का खेल खेला उस पर हमें गर्व होना चाहिए.”

आस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी आठ विकेट पर 497 रन बनाकर घोषित कर दी थी और फिर उसने इंग्लैंड को उसकी पहली पारी में 301 रन पर ऑलआउट करके 196 रनों की बढ़त हासिल कर ली थी. आस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी में छह विकेट पर 186 रन बनाकर घोषित कर दी और इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 383 रनों का लक्ष्य रखा. मेजबान इंग्लैंड की टीम इस लक्ष्य के जवाब में 91.3 ओवरों में 197 रनों पर ऑलआउट हो गई और इस तरह आस्ट्रेलिया ने 185 रनों से चौथा टेस्ट मैच अपने नाम कर लिया. इंग्लैंड ने चायकाल के बाद छह विकेट पर 166 रन से आगे खेलना शुरू किया. मेजबान टीम ने बटलर के रूप में अपना सबसे किमती विकेट खो दिया. बटलर को जोश हैजलवुड ने बोल्ड किया. बटलर ने 111 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 34 रन बनाए. बटलर का विकेट 172 के स्कोर पर गिरा.

बटलर के आउट होने के बाद मेजबान टीम ने 173 के स्कोर पर जोफरा आर्चर(1) के रूप में आठवां, 196 के स्कोर पर जैक लीच (12) के रूप में नौंवा और 197 के रूप में क्रैग ओवर्टन (21) के रूप में अपना 10वां विकेट खो दिया. मेजबान इंग्लैंड के लिए उसकी दूसरी पारी में जोए डेनली ने सर्वाधिक 53 रन बनाए. उनके अलावा जेसन रॉय ने 31, जॉनी बेयरस्टो ने 25 और बेन स्टोक्स तथा जोफरा आर्चर ने एक-एक रनों का योगदान दिया. सलामी बल्लेबाज रोरी बर्न्‍स और कप्तान जोए रूट खाता खोले बिना आउट हुए.

आस्ट्रेलिया ने पिछली बार एशेज सीरीज जीती थी और इस बार भी उसने अब 2-1 की बढ़त बना ली है. इस जीत के बाद अब एशेज आस्ट्रेलिया के पास ही बरकरार रहेगा. इंग्लैंड अब अगर पांचवां और अंतिम टेस्ट मैच जीतता भी है तो वह केवल सीरीज 2-2 से बराबर ही कर सकता है, लेकिन वह आस्ट्रेलिया से एशेज नहीं छीन सकता है.