नई दिल्ली: टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में ऐसे कई रिकार्ड्स हुए हैं जो खुद में नायाब माने जाते हैं. इनमें से एक ऐसा रिकॉर्ड ये भी है जहां कुछ ऐसे गेंदबाज है जिन्होंने अपने करियर में एक भी नो बॉल नहीं डाली. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स (Chris Woakes) भी इसी कारनामे को संभालते हुए आगे बढ़ रहे थे. लेकिन एशेज सीरीज (Ashes 2019) के पांचवें टेस्ट मैच में वोक्स ने अपनी करियर की पहली नो बॉल फेंक कर खुद को इस एलिट लिस्ट से बाहर कर दिया. Also Read - ओली रॉबिनसन को इंग्लैंड टीम के खिलाड़ियों का पूरा समर्थन हासिल: जेम्स एंडरसन

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया (England vs Australia) के बीच खेली गई एशेज सीरीज (Ashes Series) 2-2 से ड्रॉ रही. दोनों टीमों ने 2-2 मैच जीते. सीरीज का एक मैच बेनतीजा रहा. सीरीज के पांचवें मैच के चौथे दिन इंग्लैंड (England) के मीडियम पेस गेंदबाज क्रिस वोक्स ने अपने टेस्ट करियर की पहली नो बॉल फेंकी. वैसे यह उनके टेस्ट करियर की 5254वीं गेंद थी. उन्होंने अपने करियर की शुरुआती 5253 गेंदों में एक बार भी नो बॉल नहीं की थी. Also Read - IPL 2021 से लौटे इंग्लिश खिलाड़ियों को न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलने को मजबूर नहीं करेगा ECB

Also Read - IPL 2021: ECB ने की पुष्टि; उंगली में सर्जरी के बाद 12 हफ्तों के लिए मैदान से दूर रहेंगे बेन स्टोक्स

यह ऑस्ट्रेलिया की पारी के 31वें ओवर की दूसरी गेंद थी. क्रिस वोक्स के सामने मिचेल मार्श (Mitchell Marsh) थे. वे अच्छी बैटिंग कर रहे थे. मिचेल मार्श ने इस ओवर की दूसरी गेंद को खेलना चाहा, लेकिन वे थर्ड स्लिप में कैच दे बैठे. क्रिस वोक्स विकेट मिलने की खुशी में उछल पड़े. मार्श भी पैवेलियन की ओर बढ़ गए. तभी फील्ड अंपायर ने मार्श को रोक लिया.

फील्ड अंपायर को शक था कि क्रिस वोक्स का पैर क्रीज से आगे निकला है. ओवर स्टेपिंग के कारण यह नो बॉल हो सकती है. फील्ड अंपायर ने इस बारे में थर्ड अंपायर से पूछा. थर्ड अंपायर ने इसे नो बॉल करार दिया. वोक्स का पैर वाकई में क्रीज से आगे निकल गया था. इस तरह मिचेल मार्श को नॉट आउट करार दिया गया.

क्रिस वोक्स वोक्स का यह 31वां टेस्ट मैच था. उन्होंने इस मैच से पहले 87 विकेट लिए थे. वोक्स ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों पारियों में कुल मिलाकर 17 ओवर की गेंदबाजी की और एक विकेट लिया. उन्हें दूसरा विकेट मिलते-मिलते रह गया. इस तरह 30 साल के क्रिस वोक्स ने अपने 31वें टेस्ट मैच में पहली नो बॉल फेंकी. उन्होंने 31 टेस्ट मैच में 88 विकेट लिए हैं और 27.92 की औसत से 1145 रन भी बनाए हैं. इसमें एक शतक और चार अर्धशतक शामिल हैं. ऑलराउंडर वोक्स ने 99 वनडे और आठ टी20 मैच भी खेले हैं.

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में कुछ ही स्पेशलिस्ट बॉलर ऐसे हुए हैं, जिन्होंने अपने करियर में एक भी नो बॉल नहीं की है. इनमें पाकिस्तान के मौजूदा पीएम और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान (संभवतः)  शामिल हैं.