नई दिल्ली: जेम्स विन्से (76) और मार्क स्टोनमैन (60) के अर्धशतकों की मदद से इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के तीसरे दिन अपनी दूसरी पारी में रविवार को क्राइसचर्च में तीन विकेट पर 202 रन बनाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली. इंग्लैंड की कुल बढ़त अब 231 रन हो गयी है. इससे पहले न्यूजीलैंड टीम इंग्लैंड के 307 रन के जवाब में अपनी पहली पारी में 278 रन पर आउट हो गयी थी. न्यूजीलैंड की तरफ से बीजे वाटलिंग ने 85, कोलिन ग्रैंडहोम ने 72 और टिम साउथी ने 50 रन बनाये. इंग्लैंड के लिये स्टुअर्ट ब्राड ने 54 रन देकर छह और जेम्स एंडरसन ने 76 रन देकर चार विकेट लिये.Also Read - Ashes 2021: एशेज सीरीज के लिए 'भारत' से मिलेगी इंग्लैंड को मदद, खुद कप्तान Joe Root ने कर दिया खुलासा

Also Read - शुबमन गिल के पास टेस्ट टीम में किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी की तकनीक है : सचिन तेंदुलकर

VIDEO: गेल पर चढ़ा पंजाबी रंग, जमकर कर रहे हैं भांगड़ा Also Read - उम्मीद से कहीं ज्यादा मुश्किल और रोमांचित होने वाली है एशेज सीरीज: इयान बॉथम

इंग्लैंड ने इसके बाद पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक (14) का विकेट जल्दी गंवा दिया लेकिन विन्से और स्टोनमैन ने दूसरे विकेट के लिये 123 रन जोड़कर टीम को इस झटके से उबारा. स्टंप उखड़ने के समय कप्तान जो रूट 30 और डेविड मलान 19 रन पर खेल रहे थे. विन्से ने अपने टेस्ट करियर का सर्वोच्च स्कोर बनाया. उन्होंने ट्रैंट बोल्ट की गेंद पर रोस टेलर को कैच थमाया.

स्टोनमैन भी तीन घंटे पांच मिनट तक क्रीज पर टिके रहने के बावजूद बड़ी पारी नहीं खेल पाये. उन्होंने अपना पिछला सर्वोच्च स्कोर पार करने के बाद टिम साउथी की बाहर जाती गेंद को छेड़कर विकेटकीपर वाटलिंग को कैच दिया. इससे पहले ब्रॉड और एंडरसन ने सभी दस विकेट लिये. यह श्रृंखला में तीसरा अवसर है जबकि नयी गेंद की जोड़ी ने सभी दस विकेट चटकाये. बोल्ट और साउथी ने दोनों टेस्ट मैच की पहली पारियों में यह कारनामा किया.

IPL2018: रहाणे ने स्मिथ के रिकॉर्ड्स को बताया सम्मानजनक, बैन पर नहीं दी कोई प्रतिक्रिया

वाटलिंग ने सुबह 77 रन से अपनी पारी आगे बढ़ायी लेकिन वह ज्यादा देर तक नहीं टिक पाये. हालांकि उन्होंने कल तब ग्रैंडहोम के साथ सातवें विकेट के लिये 142 रन की साझेदारी की जब न्यूजीलैंड पांच विकेट पर 36 रन के स्कोर पर जूझ रहा था. साउथी अपना चौथा टेस्ट अर्धशतक पूरा करने में सफल रहे. यह साउथी के करियर में दूसरा अवसर है जबकि उन्होंने मैच में पांच विकेट और अर्धशतक का डबल पूरा किया. उन्होंने 2008 में इंग्लैंड के खिलाफ ही यह कारनामा किया था. निचले क्रम में नील वैगनर ने नाबाद 24 और बोल्ट ने 16 रन का योगदान दिया.