इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने शुक्रवार को घोषणा की है कि इंग्लैंड क्रिकेट टीम अगले साल जुलाई में भारत के खिलाफ 2021 टेस्ट सीरीज़ का आखिरी टेस्ट मैच खेलेगी जो कि कोरोनोवायरस की वजह से रद्द कर दिया गया था।Also Read - Omicron in India: राजस्थान में अफ्रीका से लौटे परिवार के चार सदस्य और संपर्क में आए 5 कोरोना पॉजिटिव

ये मैच पिछले महीने ओल्ड ट्रैफर्ड में होने वाला था, जब भारतीय टीम ने अपने खेमे में बढ़ रहे कोविड मामलों की वजह से 11 खिलाड़ियों को मैदान में उतारने में असमर्थता जताई थी। Also Read - Omicron Scare: 'जैसे-जैसे वायरस विकसित होते हैं कमजोर पड़ते जाते हैं', तो क्या यह कमजोर वेरिएंट है?

अगले सीज़न के व्यस्त इंग्लिश क्रिकेट शेड्यूल के बीच ये मैच अब ईसीबी और बीसीसीआई के बीच समझौते के बाद 1 जुलाई से बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान में होगा। Also Read - LIVE SCORE IND vs NZ, 2nd Test Day 1: बाहर हुए रहाणे, इशांत और जडेजा; 10:30 बजे होगा पिच निरीक्षण

इंग्लैंड और भारत के बीच खेला जाना वाला मैनचेस्टर टेस्ट निर्धारित समय से सिर्फ दो घंटे पहले रद्द दिया गया था। मुख्य कोच रवि शास्त्री और दो अन्य बैकरूम स्टाफ के बिना मैनचेस्टर पहुंची टीम इंडिया के सहायक फिजियोथेरेपिस्ट योगेश परमार की कोविड रिपोर्ट आने के बाद खिलाड़ियों के बीच डर का माहौल पैदा हुआ। जिस वजह से बीसीसीआई ने मैच खेलने से इंकार कर दिया।

ये अनुमान लगाया गया था कि इस मैच के रद्द होने की वजह से ओल्ड ट्रैफर्ड के मालिक लंकाशायर को 40 मिलियन पाउंड (55 मिलियन डॉलर) तक का नुकसान हुआ था।

ऐसी उम्मीद थी कि मैच ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर ही खेला जाएगा लेकिन वेन्यू पर पहले से निर्धारित मुकाबलों की वजह से आयोजकों को टेस्ट पिच तैयार करने का समय नहीं होगा।

इस मैच को अब एजबेस्टन में शिफ्ट किया गया है, जबकि इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच वार्विकशायर में होने वाला दूसरा टेस्ट अब 25 अगस्त, 2022 से ओल्ड ट्रैफर्ड में खेला जाएगा।

ईसीबी के मुख्य कार्यकारी टॉम हैरिसन ने कहा, “हमें बहुत खुशी है कि हमने अब तक शानदार रही सीरीज के लिए एक उपयुक्त अंत बनाने के लिए बीसीसीआई के साथ एक समझौता किया है।”

उन्होंने कहा, “हम सितंबर की आए व्यवधान और निराशा के लिए प्रशंसकों से फिर से माफी मांगना चाहते हैं। हम जानते हैं कि ये एक ऐसा दिन था जिसकी बहुत पहले से योजना बनाई गई थी।”