सीनियर तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (James Anderson) का मानना है कि उनके साथी गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाले तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच में खेलना चाहते हैं। दोनों टीमों के बीच तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबरी पर है। Also Read - कोविड-19 की वजह से भारतीय क्रिकेटर चेतन सकारिया के पिता का निधन

साउथम्पटन में खेले गए पहले टेस्ट मैच के बाद आर्चर ने बायो सिक्योर प्रोटोकॉल तोड़ा था, जिसके लिए उन्हें मैनचेस्टर टेस्ट से बाहर कर दिया गया था। बाद में आर्चर ने खुलासा किया था कि बायो सिक्योर प्रोटोकॉल तोड़ने के कारण लोगों ने उन्हें नस्लवादी कमेंट्स किए। Also Read - कुलदीप यादव को इंग्लैंड दौरे पर जाने वाले टेस्ट स्क्वाड में जगह ना देना सख्त फैसला था: आकाश चोपड़ा

आर्चर का दूसरा कोविड-19 टेस्ट नेगेटिव आया था, इसके बाद तीसरे टेस्ट के लिए उन्हें दोबारा से टीम से जुड़ने की अनुमति दे दी गई थी। तीसरा टेस्ट मैच 24 जुलाई से मैनचेस्टर में ही खेला जाना है। Also Read - इन चार कारणों की वजह से स्थगित हुआ IPL 2021; क्यों भारत में UAE जैसा सफल आयोजन नहीं कर सकी BCCI?

डेली मेल के लिए कॉलम में आर्चर लिखा, “पिछले कुछ दिनों से, मैंने बहुत से सोशल मीडिया प्रोफाइलों को अनफॉलो और म्यूट कर दिया है, ताकि इससे दूर हो सकूं। मैं इस मामले में वापस नहीं जाऊंगा। मुझे ये अनावश्यक शोर लगता है। दो विकेट लें और हर कोई फिर से बैंडबाजे पर वापस आ जाए। ये एक चंचल दुनिया है जिसमें हम रहते हैं।”

एंडरसन ने स्काई स्पोटर्स से कहा, “हमने जोफ्रा को ज्यादा नहीं देखा है, क्योंकि वो पिछले कुछ दिनों के लिए आइसोलेशन में थे। लेकिन ये जानते हुए भी कि मैं ऐसा करता हूं, मुझे यकीन है कि वो इस मैच में खेलना चाहेंगे, क्योंकि ये बहुत महत्वपूर्ण है।”

उन्होंने कहा, “अगले कुछ दिनों में, उन्हें कप्तान (जो रूट) और कोच (क्रिस सिल्वरवुड) के साथ बैठना होगा और ये पता लगाना होगा कि क्या वो खेलने की स्थिति में हैं। ये कुछ ऐसा होता है जो हमेशा अंतर्राष्ट्रीय सेट-अप में आने वाले लोगों के लिए मुश्किल हो सकता है, क्योंकि यह बहुत अलग है।”