नई दिल्ली : दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का कहना है कि विश्व कप की मेजबानी कर रहे इंग्लैंड में विकेट बल्लेबाजों की मददगार होंगी और वहां गेंदबाजों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. विश्व कप की शुरुआत इंग्लैंड एंड वेल्स में 30 मई से हो रही है. सचिन ने कहा कि इंग्लैंड एंड वेल्स की पिचें गेंदबाजों की ज्यादा मदद नहीं करेंगी और उसी तरह बर्ताव करेंगी जिस तरह चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 में किया था.

एआईजी क्लब के पवेलियन का नाम सचिन के नाम पर रखा गया है. इसके उद्घाटन समारोह से इतर सचिन ने कहा, “मुझसे कहा गया है कि वहां बहुत गर्मी होने वाली है. चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान भी जब सूरज अच्छी तरह निकल रहा था तब विकेट अच्छी थीं. गर्मी में विकेट फ्लैट हो जाती हैं. मुझे पूरी उम्मीद है कि वह बल्लेबाजी के लिए अच्छी विकेट देंगे.”

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि जब तक बारिश होगी तब तक परिस्थितियों में ज्यादा बदलाव होगा. अगर बादल छाते हैं तो गेंद थोड़ी बहुत मूव कर सकती है. अगर ऐसा भी होता है तो मुझे नहीं लगता कि यह ज्यादा देर तक होगा. हो सकता है कि शुरुआती ओवरों तक ही इसका असर दिखे.”

शाहिद अफरीदी ने क्रिकेट करियर के सबसे बड़े झूठ का किया खुलासा

विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पांड्या और शिखर धवन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, ऐसे में सचिन को लगता है कि इस प्रदर्शन से उन्हें विश्व कप में आत्मविश्वास मिलेगा. सचिन के मुताबिक, “किसी भी प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन अच्छी बात है क्योंकि इससे खिलाड़ी को आत्मविश्वास मिलता है. आपके पास आत्मविश्वास है तो यह काफी अहम है.”