ऑस्ट्रेलिया (Australia) के खिलाफ एशेज सीरीज से पहले इंग्लैंड के टेस्ट क्रिकेटरों का पहला हिस्सा शनिवार सुबह ब्रिसबेन पहुंच गया जो गोल्ड कोस्ट के एक आलीशान रिसॉर्ट में 14 दिन क्वारेंटीन में रहेगा।Also Read - Australian Cricket Hall of Fame: Justin Langer ‘ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट हॉल ऑफ फेम’ में शामिल, इस महिला क्रिकेट को भी सम्मान

खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ को कड़े क्वारेंटीन में रहना होगा लेकिन उन्हें अभ्यास की अनुमति दे दी गई है। वो रिसॉर्ट की सुविधाओं का पूरा इस्तेमाल कर सकते हैं। Also Read - इंग्लैंड के कप्तान जो रूट बने साल 2021 के ICC पुरुष टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर टी20 विश्व कप से लौटने के बाद इसी रिसॉर्ट में क्वारेंटीन में रहेंगे। जॉनी बेयरस्टॉ और जॉस बटलर समेत इंग्लैंड की टी20 टीम के सदस्य भी टूर्नामेंट खत्म होने के बाद पहुंचेंगे। Also Read - बिग बैश लीग में सिडनी सिक्सर्स के लिए नहीं खेल पाएंगे स्टीव स्मिथ, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने नहीं दी इजाजत

शनिवार को यहां पहुंचने वाले इंग्लैंड के क्रिकेटरों में कप्तान जो रूट (Joe Root), ऑलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes), बल्लेबाज रोरी बर्न्स (Rory Burns) और स्पिन गेंदबाज जैक लीच तथा डोम बेस शामिल हैं ।

रूट ने कहा कि इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया में भारत की 2-1 से सीरीज जीत से उनकी टीम का आत्मविश्वास बढ़ा है।

मंगलवार को एक कांफ्रेंस में रूट कहा, “मुझे लगता है कि जिस तरह से भारत गया और अपनी (ऑस्ट्रेलिया की) पिछली घरेलू सीरीज में वहां खेला था, उससे हम आत्मविश्वास ले सकते हैं। उन्होंने उन्हें अपने तरीके से लिया, वो अपनी ताकत पर खेले, लेकिन उन्होंने किसी भी स्तर पर पीछे कदम नहीं उठाया।”