नई दिल्ली : एफसी पुणे सिटी इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में सोमवार को पुणे के श्री शिव छत्रपति स्पोटर्स कॉम्पलेक्स स्टेडियम में बेंगलुरू एफसी से भिड़ेगी. पुणे को इस सीजन में अभी भी पहली जीत की तलाश है. स्टैलियंस नाम से मशहूर पुणे मौजूदा सीजन में 10 टीमों की तालिका में नौवें स्थान पर है. उसने अब तक खेले गए दो मैचों से सिर्फ एक अंक अर्जित किया है और इस पहली बार घर में खेलने जा रही है. Also Read - IPL 2020 KKR vs MI Preview: कोलकाता-मुंबई मैच में 'हिटमैन', शुबमन, हार्दिक और रसेल पर होगी नजर

Also Read - India vs New Zealand, 2nd ODI: ऑकलैंड वनडे में इन 2 बदलाव के साथ उतर सकता है भारत

पुणे के कोच मिग्वेल एंजेल पुर्तगाल ने इस अहम मैच से पहले कहा, “मैं समझता हूं कि बेंगलुरू एफसी अभी भारत की श्रेष्ठ टीम है. यह टीम लगभग अपने सभी पुराने खिलाड़ियो के साथ लीग में दूसरा सीजन खेल रही है. इस टीम ने सिर्फ दो या तीन खिलाड़ी बदले हैं. यह बहुत अहम बात है. अल्बर्ट रोका चले गए लेकिन चालर्स कुडार्ट वही हैं.” Also Read - IND v WI 3rd T20: निर्णायक T20 में इस प्लेइंग इलेवन के साथ उतर सकती है टीम इंडिया

पुणे को जीत की सख्त दरकार है और बेंगलुरू के खिलाफ जीत की स्थिति में न सिर्फ इस सीजन में उसका खाता खुलेगा बल्कि इस टीम के खिलाफ पहली जीत भी होगी. बीते सीजन में पुणे को बेंगलुरू के खिलाफ जीत नहीं मिल सकी थी.

गुवाहाटी वनडे में रोहित-विराट के बल्ले का चला जादू, टूट गए कई बड़े रिकॉर्ड

पुर्तगाल ने कहा, “हम इस मैच की शिद्दत से तैयारी कर रहे हैं. हम उनकी मजबूतियों को जानते हैं और साथ ही साथ उनकी कमजोरियों से भी वाकिफ हैं. हमारे पास अपने आइडिया हैं और हम अपनी रणनीति को अमली जामा पहनाते हुए जीत हासिल करने का प्रयास करेंगे.”

बेंगलुरू को हराने की रणनीति को सफल बनाने की दिशा में एमिलियानो एल्फारो और मार्सेलिन्हो जैसे फारवर्ड खिलाड़ियों की अहम भूमिका होगी. पुणे इस सीजन में दो मैचों में सिर्फ एक गोल कर सका है और इसे बेंगलुरू उसकी एक कमजोरी के तौर पर देखेगा. इस टीम ने कुल 21 बार गोल पर हमला किया है लेकिन सभी 10 टीमों में उसका कन्वर्जन रेट (4.76) सबसे खराब है.

दूसरी ओर, बीते सीजन में पदार्पण के साथ ही हंगामा करने वाली बेंगलुरू की टीम इस सीजन में नए कोच की देखरेख में खेल रही है. चालर्स की देखरेख मे इस टीम ने सीजन का विजयी आगाज करते हुए मौजूदा चैम्पियन चेन्नइयन एफसी को हराया और फिर जमशेदपुर एफसी के साथ अपने घर में ड्रॉ खेला.

रोहित शर्मा के तूफानी शतक से टूटे कई रिकॉर्ड, पोटिंग-वॉटसन को पीछे छोड़ा

बीते सीजन में घर से बाहर बेंगलुरू का प्रदर्शन काफी प्रभावशाली रहा था और इस टीम ने नौ में से सात मैच अपने नाम किए थे. अब जबकि घर से बाहर उसका अभियान शुरू होने को है, चालर्स चाहेंगे कि उनकी टीम बीते सीजन के अपने आंकड़े को और बेहतर करे.

चालर्स ने कहा, “पुणे के खिलाफ मैच हमेशा टफ होता है और मुझे उम्मीद है कि इस बार भी एसा ही कुछ होगा. मैं यूईएफए लाइसेंस रिन्यू कराने के दौरान दो सप्ताह पहले मेड्रिड में मिग्वेल से मिला था. मैंने उनसे कहा था कि उनकी टीम की आक्रमण पंक्ति शानदार है. मिग्वेल के फारवर्ड किसी भी परिस्थिति में मैच अपने नाम करने की क्षमता रखते हैं औ? हमें उनके सावधान रहने की जरूरत होगी.”

वैसे चालर्स के पास भी आईएसएल के दो बेहतरीन फारवर्ड हैं. मिकू और कप्तान सुनील छेत्री किसी भी टीम के खिलाफ कहर बरपा सकते हैं. नए सीजन मे दोनों खिलाड़ियों ने पहले ही अपने नाम गोल कर लिए हैं और अब वे अपने पसंदीदा प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ एक अहम मुकाबले के लिए तैयार हैं. पुणे के खिलाफ बीते सीजन में खेले गए चार मैचों में मीकू और छेत्री ने आपस में सात गोल बांटे थे. एसे में पुणे के खिलाफ उन्हें मैदान में देखना वाकई रोचक होगा.