नई दिल्ली: देश के सबसे पुराने स्टेडियम में से एक फ़िरोज़ शाह कोटला का नाम बदल दिया गया है. अब इसे हाल में दिवंगत हुए पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के नाम से जाना जाएगा. दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ (DDCA) ने मंगलवार को फिरोज शाह कोटला स्टेडियम का नाम अपने पूर्व अध्यक्ष की याद में रखने का फैसला किया है. अरुण जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष भी रहे थे. साथ ही दिल्ली में क्रिकेट के विकास में भी उनका योगदान उल्लेखनीय रहा है.

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज और पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने यमुना स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का नाम पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत अरुण जेटली के नाम पर करने की मांग की थी. गौतम गंभीर ने दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखकर मांग की थी कि यमुना स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का नाम पूर्व वित्त मंत्री दिवंगत अरुण जेटली के नाम पर किया जाना चाहिए.

गंभीर ने ट्विटर पर लिखा, “अरुण जेटली के लिए हम सभी के मन में सम्मान है. हम चाहते हैं कि वह हमारे दिलों में हमेशा रहें. इसलिए मैं प्रिय नेता के सम्मान में यमुना स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का नाम बदलकर अरुण जेटली स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स रखे जाने का प्रस्ताव रख रहा हूं.”

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद 24 अगस्त को निधन हो गया था. जेटली बीसीसीआई के उपाध्यक्ष भी रह चुके थे.