Live Updates

नई दिल्ली। पहले मैच में अपने जज्बे और जिजीविषा का अच्छा नमूना पेश करने के बावजूद हार का सामना करने वाली भारतीय टीम को फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप में सोमवार को यहां एक अन्य दमदार प्रतिद्वंद्वी कोलंबिया के खिलाफ कड़ी परीक्षा से गुजरना होगा. किसी भी तरह के वर्ल्ड कप में पहली बार खेल रहे भारत को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए मैच में अंतरराष्ट्रीय फुटबाल की कड़ी सचाई का पता चला. अमेरिका ने इस मैच में भारत को 3-0 से हराया. भारत ने जज्बा तो दिखाया लेकिन कौशल के मामले में अमेरिका उससे मीलों आगे रहा। मेजबान देश को कल फिर से इसी तरह की चुनौती का सामना करना पड़ेगा. Also Read - IPL 2020, CSK vs MI, Preview: नॉकआउट मुकाबले में मुंबई इंडियंस से होना चेन्नई सुपर किंग्स का सामना

मध्यपंक्ति के मुख्य खिलाड़ी सुरेश सिंह का मानना है कि भारत को अपने अंतिम क्षणों के पास में सुधार करना होगा लेकिन हर विभाग में मजबूत कोलंबिया के सामने एक विभाग में सुधार से ही काम नहीं चलने वाला है. मेजबान टीम वर्ल्ड कप में भाग ले रही एक अन्य टीम नाइजर से प्रेरणा लेनी चाहेगी जिसने उत्तर कोरिया को हराकर अपने अभियान का शानदार आगाज किया. अगर अफ्रीकी देश ऐसा कर सकता है तो भारत क्यों नहीं। हालांकि ऐसा करने की तुलना में कहना आसान है. भारत ने कोशिश की लेकिन वह दुनिया को नहीं दिखा पाया कि उसका स्तर इस टूर्नामेंट के लायक है जिसने दुनिया को कई स्टार खिलाड़ी दिए हैं. Also Read - IPL 2020 CSK vs MI Live Streaming: कब और कहां देख सकेंगे चेन्नई-मुंबई मैच

India vs Columbia FIFA Under-17 World Cup: Watch Online Telecast of INDvsCOL on Sony LIV from JLN stadium Delhi | फीफा U-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप LIVE: भारत और कोलंबिया के बीच मुकाबला जारी, यहां देखिए सीधा प्रसारण

India vs Columbia FIFA Under-17 World Cup: Watch Online Telecast of INDvsCOL on Sony LIV from JLN stadium Delhi | फीफा U-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप LIVE: भारत और कोलंबिया के बीच मुकाबला जारी, यहां देखिए सीधा प्रसारण

कोच लुई नोर्टन डि माटोस पहले मैच के परिणाम से खुश नहीं थे और उन्हें उम्मीद होगी कि उनकी टीम दक्षिण अमेरिकी टीम के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन करेगी. माटोस ने कहा, ‘कोलंबिया मजबूत प्रतिद्वंद्वी है. हमें किसी भी तरह की ढिलाई नहीं बरतनी होगी. वे हमें शारीरिक तौर पर भी कड़ी चुनौती देंगे लेकिन हम इसके लिए तैयार हैं. हम जीत के लिए खेलेंगे.’ अमेरिका के खिलाफ कुछ अवसरों पर भारत ने अच्छे खेल की झलक दिखाई लेकिन माटोस कल इससे भी बेहतर प्रदर्शन चाहते हैं. भारत ने मौके बनाए और अपने कौशल से भी उसने कुछ प्रभाव छोड़ा. एक अवसर पर टीम गोल करने के करीब भी पहुंची। लेकिन यह साफ नजर आ रहा था कि अमेरिका दोनों टीमों में बेहतर था. Also Read - केन्या के खिलाफ फाइनल मैच खेलने उतरेगी भारतीय फुटबॉल टीम, छेत्री पर रहेगी अहम जिम्मेदारी