अंडर-19 विश्व कप फाइनल (Under-19 World Cup final) के दौरान हुई शर्मनाक घटना के लिए आईसीसी ने पांच खिलाड़ियों पर जुर्माना लगाया है। जिनमें से तीन खिलाड़ी बांग्लादेशी और दो भारतीय हैं।

रविवार को खेले गए फाइनल मैच में गत विजेता भारत को हराकर बांग्लादेश ने पहली बार अंडर-19 विश्व कप जीता। हालांकि मैच खत्म के बाद मैदान पर कुछ ऐसे दृश्य देखने को मिले जो खेलभावना के विपरीत थे।

मैचविनिंग रन बनाने वाले तौहीद ह्रिदॉय (Towhid Hridoy), शमीम हुसैन (Shamim Hossain) और रकीबुल हसन (Rakibul Hasan) को आईसीसी की आचार संहिता के लेवल 3 के उल्लंघन का दोषी पाया गया, जबकि भारतीय खिलाड़ी आकाश सिंह (Akash Singh) और रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) को भी यहाी सजा मिली है। तौहीद, शमीम और रकीबुल को 6 डीमेरिट अंक दिए गए हैं, जबकि रवि और आकाश को 5-5 अंक मिले हैं।

आईसीसी ने टी20 विश्व कप से पहले नो-बॉल नियम में किया बड़ा बदलाव

टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले बिश्नोई को अविशेक दास के आउट होने के बाद “अपशब्द का प्रयोग करने, इशारों से निराशा जताने या बल्लेबाज के प्रति आक्रामक प्रतिक्रिया देने” के लिए दो और डीमेरिट दिए गए हैं।