इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच मंगलवार को ट्रेंट ब्रिज में खेले गए वनडे की चर्चा क्रिकेट प्रेमियों में आज भी हो रही है और हो भी क्यों न क्योंकि इस मैच में कई पुराने रिकॉर्ड टूटे हैं और कई नए बने हैं। इस मैच में जहां इंग्लैंड ने वनडे इतिहास का सबसे बड़ा टोटल बनाते हुए श्रीलंका का 10 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया, वहीं पाकिस्तानी गेंदबाज वहाब रियाज वनडे में दुनिया के दूसरे सबसे महंगे गेंदबाज बन गए और इस मामले में उन्होने भारत के भुवनेश्वर कुमार को पीछे छोड़ा दिया है लेकिन इस बीच एक अन्य पाकिस्तानी तेज़ गेंदबाज मोहम्मद आमिर का कमाल दबकर रह गया, जबकि इस गेंदबाज ने गेंदबाजी नहीं, बल्कि बैटिंग में एक वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है।

2010 में इंग्लैंड की जमीन पर मैच फिक्सिंग के दोषी करार दिए गए मोहम्मद आमिर ने सजा पूरी करने के बाद इस साल की शुरुआत में क्रिकेट में वापसी की थी। वापसी के बाद विशेषज्ञ उनके प्रदर्शन को लेकर संदेह भी जता रहे थे, लेकिन अपने इन सब कयासों को गलत साबित करते हुए शानदार वापसी की और अपने चौंकाने वाले प्रदर्शन से सबकी बोलती बंद कर दी। इससे पहले दुनिया ने अब तक उनका कमाल सिर्फ गेंदबाजी में ही देखा था, लेकिन अब उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए बड़ा धमाका किया है। हालांकि वह बैटिंग के लिए नहीं गेंदबाजी के लिये जाने जाते हैं इसीलिए कप्तान उन्हें 11वें नंबर पर बैटिंग के लिए भेजते रहे हैं। हो सकता है कि इसके बाद उनके बैटिंग ऑर्डर में कोई बदलाव आए। यह भी पढ़ें: पाकिस्तान ने तोड़े क्रिकेट के अब तक के सारे रिकॉर्ड, अफरीदी के बाद इस बल्लेबाज ने बनाया सबसे तेज शतक

फोटो क्रेडिट- indiatimes.com

फोटो क्रेडिट- indiatimes.com

मंगलवार को खेले गए मैच में इंग्लैंड ने पाकिस्तान के सामने विशालकाय 445 रनों का लक्ष्य रखा था। इसका सामना करने उतरी पाकिस्तान की पारी लड़खड़ा गई और वो इस विशाल स्कोर के सामने संघर्ष कर रही थी। मैच में एक पल ऐसा भी आया जब पाकिस्तान के 199 रन पर 9 विकेट गिर चुके थे। हार तय थी और सभी को लग रहा था पारी 200 रनों में ही सिमट कर रह जाएगी लेकिन यासिर शाह का साथ देने आए तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने 11वें नंबर पर बैटिंग करते हुए शानदार खेल दिखाया। उन्होंने ताबड़तोड़ पारी खेलते हुए 28 गेंदों 58 रन जड़ इंगलैंड के पसीने छुड़ा दिये। आउट होने से पहले उन्होंने 5 चौके और 4 छक्के जड़े। इस बीच वह वर्ल्ड क्रिकेट में 11वें नंबर पर फिफ्टी बनाने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए।

11वें नंबर पर वनडे में फिफ्टी बनाने वाले आमिर ने नया वर्ल्ड रिकॉर्ज अपने नाम करते हुए हमवतन तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को पीछे छोड़ा. शोएब ने 22 फरवरी, 2003 को इंग्लैंड के ही खिलाफ 16 गेंदों में 43 रन बनाए थे, जिसमें 5 चौके और 3 छक्के लगाए थे। हालांकि वह अपने 50 रन पूरे नही कर पाए थे।

11वें नंबर पर बैटिंग करते हुए एक पारी में सबसे अधिक रन बनाने के मामले में पाकिस्तान के शोएब अख्तर जहां इस सूची में दूसरे नंबर पर हैं, वहीं दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज मखाया नतिनी तीसरे नंबर पर हैं। नतिनी ने 2 मार्च, 2004 को न्यूजीलैंड के खिलाफ ताबड़तोड़ 35 गेंदों में 42 रन बनाए थे, लेकिन 8 रन से फिफ्टी से चूक गए थे। उन्होंने 3 चौके और 2 छक्के लगाए थे। वेस्टइंडीज के जोएल गार्नर ने जून, 1983 में 29 गेंदों 37 रन बनाए थे, जबकि केन्या के पीटर ऑनगॉन्डो ने अगस्त, 2001 में 42 गेंदों में 36 रन बनाए थे।