पूर्व इंग्लिश कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने चौंकाने वाले बयान में कहा कि इंग्लैंड के ज्यादातर खिलाड़ी अपने पूर्व साथी केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) से जलते थे क्योंकि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में उन्हें ‘बड़ा कॉन्ट्रेक्ट’ मिला था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके पीटरसन को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने 2009 में 9.8 करोड़ रूपये में खरीदा था। Also Read - डोमेस्टिक लीग में तहलका मचा चुके Moksh Murgai, अब IPL खेलने की ख्वाहिश

वॉन ने ‘फॉक्स स्पोर्ट्स’ से कहा, ‘‘लोग बहुत जलते थे। खिलाड़ी अब इसे झुठलाएंगे लेकिन उस समय ऐसा था।’’ Also Read - कोरोना की मुश्किल घड़ी में भारत से बोले Kevin Pietersen, यह समय बीत जाएगा सावधाान रहिए

वॉन ने कहा कि  पीटरसन और तत्कालीन कप्तान एंड्रयू स्ट्रास के बीच मतभेदों की शुरूआत आईपीएल को लेकर ही हुई थी। दरअसल इन दो पूर्व खिलाड़ियों के बीच से मतभेद का कारण इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के अपने खिलाड़ियों को आईपीएल खेलने की अनुमति नहीं देने की वजह से शुरू हुआ था। Also Read - IPL 2021 में शानदार प्रदर्शन करने वाले इन 5 खिलाड़ियों को श्रीलंका दौरे पर जाने वाले भारतीय स्क्वाड में मिल सकता है मौका

पीटरसन का मानना था कि आईपीएल खेलकर बेहतरीन वनडे टीम बनाई जा सकती है। इस पर वॉन ने कहा,‘‘वो कहता था कि वो इसलिए खेलना चाहता है क्योंकि इससे दुनिया के शीर्ष वनडे खिलाड़ियों के खिलाफ खेलने का मौका मिलेगा और अपना खेल बेहतर होगा।’’

उन्होंने कहा कि कुछ खिलाड़ियों का हालांकि मानना था कि वो पैसे के लिए खेलना चाहता है। उन्होंने कहा,‘‘उनका कहना था कि वो सिर्फ पैसा कमाना चाहता है। उसे बड़ा कॉन्ट्रेक्ट मिला था जबकि बाकियों को नहीं।’’