भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान (Zaheer Khan)  का कहना है कि सौरव गांगुली (Sourav Gaguly) और महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी में काफी समानताएं हैं। दिग्गज गेंदबाज जहीर उन सीनियर खिलाड़ियों में से हैं जो कि गांगुली और धोनी, दोनों की कप्तानी में खेल चुके हैं। Also Read - IPL 2020: 600 रन पार हुए केएल राहुल, विराट कोहली के खास क्लब में शामिल

जहीर विश्व कप 2003 में गांगुली की कप्तानी और विश्व कप 2011 में धोनी की कप्तानी में सर्वाधिक विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज थे। जहीर ने बताया कि करियर की शुरुआत में उन्हें गांगुली से काफी समर्थन मिला था और धोनी ने युवाओं का मार्गदर्शन करने की ये कला इसी बाएं हाथ के बल्लेबाज से सीखी। Also Read - IPL 2020 RCB vs SRH Live Streaming: कब और कहां देख सकेंगे बैंगलोर-हैदराबाद मैच

यू-ट्यूब पर अपलोड किए गए एक वीडियों में उन्होंने कहा, “बिल्कुल, करियर के शुरुआती स्टेज पर आपको यही (कप्तान से समर्थन) चाहिए होता है। जब आप अंतरराष्ट्रीय स्तर पर करियर की शुरुआत कर रहे होते हैं तो आपको ज्यादा से ज्यादा समर्थन चाहिए होता है और फिर आप पर निर्भर करता है कि आप अपने करियर को कैसे आगे बढ़ाते हैं। लेकिन शुरुआती समर्थन जरूरी है।” Also Read - IPL 2020: आईपीएल के इतिहास में पहली बार MS Dhoni के खिलाफ किसी गेंदबाज ने किया ये कारनामा जिसे...

धोनी और गांगुली की कप्तानी की तुलना करते हुए जहीर ने कहा, “दोनों ने ही लंबे समय तक भारत का नेतृत्व किया है। एमएस के साथ भी मैंने ये बदलाव देखा है। जब एमएस को टीम मिली थी तो उसके सामने बहुत सारे सीनियर खिलाड़ी थे जिसने पास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का काफी सारा अनुभव था। इसलिए टीम की गति को बढ़ाने के मामले में उसे कुछ खास नहीं करना पड़ा था लेकिन जब एक एक कर वो सारे खिलाड़ी रिटायर हो गए और युवा बैच टीम में आया तो उसने वही भूमिका निभाई जो दादा ने अपने समय के युवा खिलाड़ियों के लिए निभाई थी।”

उन्होंने आगे कहा, “भारतीय क्रिकेट में हर दशक के साथ कप्तान बदलता है और अगले शख्स को कमान थमाता है जो कि टीम इंडिया को नए दशक में आगे ले जाता है।”