पाकिस्तान के पूर्व कप्तान यूनिस खान (Younis Khan) ने अपने साथियों के बुरे व्यवहार के बारे में बताया है और यहां तक कह दिया है कि अपनी कप्तानी के समय सच बोलने के कारण उन्हें पागल समझा जाता था। Also Read - पाकिस्तान के बल्लेबाजी कोच यूनिस खान ने क्यों कहा-अच्छा चलता हूं दुआओं में याद रखना, जानिए वजह

यूनिस को पाकिस्तान इतिहास के लाजवाब बल्लेबाजों में गिना जाता रहा है। टेस्ट में वो देश के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने बताया कि जब वो कुछ खिलाड़ियों से ये कहते थे कि वह देश के लिए सौ फीसदी नहीं दे रहे हैं तो वह उन्हें पसंद नहीं करते थे। Also Read - भारत में 2 वर्ल्ड कप खेलने के लिए BCCI से लिखित आश्वासन चाहता है PCB

गल्फ न्यूज ने यूनिस के हवाले से लिखा है, “आप अपने जीवन में कई बार ऐसी स्थिति में आते हो जहां अगर आप सच बोलते हो तो आपको पागल समझा जाता है। मेरी गलती सिर्फ इतनी थी कि मैंने खिलाड़ियों के एक ग्रुप से यह कह दिया था कि आप मैदान पर देश के लिए ज्यादा मेहनत नहीं कर रहे हो।” Also Read - सितंबर-अक्‍टूबर में Asia Cup का आयोजन चाहता है PCB , BCCI ने कहा- हमें मंजूर नहीं...

उन्होंने कहा, “उन खिलाड़ियों को हालांकि बाद में पछतावा हुआ और हम फिर लंबे समय तक देश के लिए एक साथ खेले। मैं जानता था कि मैंने कुछ गलत नहीं किया है। यह मैंने अपने पिता से सीखा है कि हमेशा सच बोलो।”