नई दिल्ली: स्टार स्ट्राइकर पॉल पोग्बा के 81वें मिनट में किए गए गोल के दम पर पूर्व विजेता फ्रांस ने शनिवार को कजान एरिना स्टेडियम में खेले गए ग्रुप-सी मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराकर फीफा विश्व कप-2018 का आगाज जीत के साथ किया. फ्रांस के लिए एंटोनियो ग्रीजमैन (58वें मिनट) और पोग्बा ने गोल किए जबकि ऑस्ट्रेलिया के लिए कप्तान मिले जेडिनाक (62वें मिनट) ने गोल किए. ग्रीजमैन और जेडिनाक ने गोल पेनाल्टी पर किए.

पहला हाफ पूरी तरह से ऑस्ट्रेलिया के नाम रहा, जो फ्रांस के मजबूत आक्रमण पंक्ति को रोक पाने में सफल रही. ऑस्ट्रेलिया ने फ्रांस को ज्यादा मौके नहीं बनने दिए और उसके मुख्य खिलाड़ी ग्रीजमैन को खुलकर नहीं खेलने दिया, लेकिन दूसरे हाफ में वो अपन खेल को जारी नहीं रख पाई. हालांकि फ्रांस का खेल ऑस्ट्रेलिया से बेहतर था, लेकिन उसकी कमजोरी इस हाफ में मिले मौकों को अंजाम तक न पहुंचना रही. दूसरे हाफ में नजारा पूरी तरह से अलग रहा. फ्रांस ने इस हाफ में ऑस्ट्रेलिया को डिफेंस को व्यस्त रखा. मैच के तीनों गोल दूसरे हाफ में ही आए.

अनुष्का ने बीच सड़क पर कचरा फेंक रहे व्यक्ति को लगाई डांट, कोहली ने शेयर किया VIDEO

पहले हाफ में फ्रांस को गोल करने का सबसे करीबी मौका मैच के दूसरे मिनट में मिला था. फ्रांस के स्टार खिलाड़ी कायलिन म्बाप्पे ने आस्ट्रेलियाई डिफेंस को भेद कर दाएं कोने से गोल करने की कोशिश की. उनके इस प्रयास को ऑस्ट्रेलिया के गोलकीपर मैट र्यान ने नकार दिया. आठवें मिनट में म्बाप्पे ने ग्रीजमैन के साथ मिलकर एक और प्रयास किया लेकिन फ्री किक पर दोनों खिलाड़ी अपनी टीम को बढ़त दिलाने से चूक गए.

17वें मिनट में ऑस्ट्रेलिया के पास भी गोल करने का पहला मौका आया. एरोन मूय ने गोलपोस्ट पर निशाना लगाया लेकिन वह गोलकीपर को भेद नहीं पाए. पहले हाफ के अंत में ग्रीजमैन और पॉल पोग्बा ने कुछ मौके जरूर बनाए लेकिन वह ज्यादा करीबी नहीं थे. उन मौकों ने रोकने में मैट को परेशानी नहीं हुई.

युवराज सिंह ने की FIFA Wolrd Cup के लिए भविष्यवाणी, बताया कौन जीतेगा खिताबी मुकाबला

दूसरा हाफ रोमांचक रहा. दोनों टीमें इस हाफ में अपना खाता पहले खोलना चाहती थीं. इस कशमकश में सफलता फ्रांस के हाथ लगी. 56वें मिनट में जब ग्रीजमैन गेंद लेकर आस्ट्रेलियाई खेमे में जा रहे थे तभी रिस्डन ने रोकने की कोशिश में फ्रांस के खिलाड़ी को गिरा दिया.

इस पर रेफरी ने रिस्डन को येलो कार्ड दिया साथ ही वीएआर की मदद लेकर फ्रांस को पेनाल्टी दी, जिसे ग्रीजमैन ने 58वें मिनट में गोल में बदल कर अपनी टीम को बढ़त दिला दी. यह ग्रीजमैन का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर 21वां गोल है. फ्रांस की बढ़त और उसके प्रशंसकों की खुशी ज्यादा देर तक टिक नहीं सकी क्योंकि चार मिनट बाद फ्रांस के सैमुएल उमतिति ने ऑस्ट्रेलिया के बॉक्स में गलती से गेंद पर हाथ लगा दिया. रेफरी ने इस पर ऑस्ट्रेलिया को तुरंत पेनाल्टी दी और जेडिनाक ने इस गोल में बदल कर अपना 19वां गोल किया और अपनी टीम को बराबरी पर ला दिया.

टीम इंडिया ने तोड़ा अपना रिकॉर्ड, पहली बार किसी टीम को एक दिन में दो बार किया ऑल आउट

बराबरी के गोल के बाद मैच में रोमांच खत्म सा हो चला था और लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया का डिफेंस फ्रांस के अटैक को रोके रखेगा तभी शांत पड़े पोग्बा ने 81वें मिनट में ऑस्ट्रेलिया के बॉक्स से गेंद को गोलकीपर के ऊपर से गोलपोस्ट में डाल फ्रांस को 2-1 से आगे कर दिया. फ्रांस ने इस स्कोर को कायम रखा और तीन अंक अपने खाते में डाले. फ्रांस की टीम अब 21 जून को अपने दूसरे मैच में पेरू से भिड़ेगी जबकि आस्ट्रेलियाई टीम पहली जीत की तलाश में इसी दिन डेनमार्क को हराने उतरेगी.