फ्रेंच ओपन (French Open 2021) के महिला सिंगल में फाइनल मुकाबले की तस्वीर साफ हो गई है. यहां रूस की अनासतासिया पावलिउचेंकोवा (Anastasia Pavlyuchenkova) से चेक गणराज्य की बारबोला क्रेजकिकोवा (Barbora Krejcikova) शनिवार को अपने पहले खिताब के लिए रोलां गैरों के सेटर कोर्ट पर भिडेंगी. अनासतासिया ने अपने सेमीफाइनल में जहां सेमीफाइनल में स्लोवेनिया की तमारा जिदांसेक को हराया, वहीं बारबोरा ने मारिया साकारी को 7-5, 4-6, 9-7 से हराते हुए पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल मे जगह बनाई. Also Read - French Open 2021: Pierre-Hugues Herbert-Nicolas Mahut के नाम मेंस डबल खिताब, Barbora Krejcikova को विमेंस सिंगल्स का ताज

बारबोरा ने फाइनल में जगह बनाने के लिए 3 घंटे 18 मिनट तक चले मैराथन मुकाबले की बाधा को पार किया, जबकि अनासतासिया ने वर्ल्ड रैंकिंग की 85वें नंबर की खिलाड़ी तमारा को 1 घंटे 34 मिनट में हीं लगातार सेटों में 7-5, 6-3 से हराकर खिताबी मुकाबले में जगह बनाई. 29 वर्षीय अनासतासिया पहली महिला खिलाड़ी बन गई हैं, जिन्होंने 50 से ज्यादा बड़े टूर्नामेंट खेले हैं. उन्होंने 15 साल की उम्र में 2007 विंबलडन में वाइल्डकार्ड के तौर पर प्रवेश कर ग्रैंड स्लैम में डेब्यू किया था. Also Read - French Open 2021 सेमीफाइन में हार के बाद बोले नडाल- कोई बहाना नहीं, मैंने गलतियां की

यह 52वीं बार था, जब अनासतासिया ने किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाई. अनासतासिया इसके साथ ही रूस की पहली महिला खिलाड़ी हैं, जिन्होंने 2015 के बाद ग्रैंड स्लैम के फाइनल में जगह बनाई है. उनसे पहले रूस की मारिया शारापोवा ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई थी, जहां उन्हें अमेरिका की सेरेना विलियम्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. Also Read - French Open 2021 Semi Final Date & Time: रोमांचक होगा सेमीफाइनल मुकाबला, Novak Djokovic से भिड़ेंगे Rafael Nadal

सेमीफाइनल मुकाबले में जीत के साथ ही अनासतासिया अपने करियर में 21वीं बार किसी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची हैं. उन्होंने इससे पहले 2019 में मॉस्को में फाइनल में जगह बनाई थी.

अगर अनासतासिया फ्रेंच ओपन का खिताब जीतने में सफल रहती हैं तो यह उनका 2018 में स्ट्रासबोर्ग टूर्नामेंट जीतने के बाद पहला खिताब होगा. उन्होंने अपने करियर में अब तक 12 खिताब जीते हैं.

(इनपुट: आईएएनएस)