फ्रांस टेनिस महासंघ (एफएफटी) के प्रमुख बर्नार्ड गुइडिसेली ने रविवार को स्वीकार किया कि स्थगित हो चुके फ्रेंच ओपन का आयोजन खाली स्टेडियम में किया जा सकता है। Also Read - कोरोना वायरस वैक्सीन बनाने में मदद करेगी गुजरात कोविड म्यूटेशन अध्ययन, जानिए क्या है एक्सपर्ट की राय 

कोरोना वायरस महामारी के कारण फ्रेंच ओपन को चार महीने के लिए टाला गया है। गुइडिसेली ने कहा कि उन्होंने अपने सभी विकल्प खुले रखे हैं। इससे पहले उन्होंने कहा था कि एफएफटी को क्ले कोर्ट पर 24 मई से सात जून तक होने वाले इस ग्रैंडस्लैम को एकतरफा फैसला करते हुए 20 सितंबर से चार अक्टूबर तक स्थगित करने का कोई खेद नहीं है। Also Read - थूक के इस्‍तेमाल पर रोक से बिगड़ेगा गेंद-बल्‍ले का संतुलन, अनिल कुंबले का सुझाव, पिच में हो बदलाव

गुइडिसेली ने ‘जर्नल डि डिमांशे’ से कहा, ‘‘हमने किसी विकल्प को खारिज नहीं किया है। टूर्नामेंट स्टेडियम में होगा और टीवी स्क्रीन पर देखा जाएगा।’’ Also Read - Pakistan Coronavirus Update: 24 घंटे में सबसे ज्यादा मामले आए सामने, संक्रमितों की संख्या 80 हजार के पार

उन्होंने कहा, ‘‘दुनिया भर में करोड़ों लोग इंतजार कर रहे हैं। खाली स्टेडियम में इसके आयोजन से व्यावसायिक माडल का एक हिस्सा- टीवी अधिकार (टूर्नामेंट के राजस्व के एक-तिहाई हिस्से से अधिक)- चलता रहेगा। इसकी अनदेखी नहीं की जा सकती।’’

कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में लगभग सभी टेनिस टूर्नामेंट मार्च के मध्य से ठप्प पड़े हैं और 13 जुलाई से पहले दोबारा शुरू नहीं होंगे।