पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में कम से कम 20 भारतीय सैनिक शहीद हुए हैं. सोमवार रात हुए इस संघर्ष को लेकर मंगलवार दोपहर में सरकार ने कहा था कि केवन तीन सैनिक शहीद हुए हैं. इसके बाद मंगलवार देर रात सरकार ने शहीद हुए सैनिकों की संख्या 20 बताई.Also Read - China के साथ सीमा संघर्ष के दौरान अग्र‍िम मोर्चों पर तैनात किए गए थे भारतीय युद्धपोत: नेवी चीफ

चीन के इस करतूत से भारतीय क्रिकेटर्स भी गुस्से में हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने शहीद हुए कर्नल संतोष बाबू को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया, ‘ उम्मीद है कि चीनी सुधर जाएं। Also Read - IND vs NZ, 2nd Test: जिसके लिए 11 साल तरसता रहा भारत, Mayank Agarwal ने कर दी हसरत पूरी


टीम इंडिया के बाएं हाथ के अनुभवी ओपनर शिखर धवन ने भी ट्वीट कर भारतीय शहीदों को श्रद्धांजलि दी। धवन ने लिखा, ‘ देश इन वीरों की शहादत को कभी नहीं भूला सकेगा। मैं इनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। आपकी वीरता को मैं सलाम करता हूं। जय हिंद!’ Also Read - India's Policy on Taiwan: ताइवान को लेकर क्या है भारत का रुख? संसद में केंद्रीय मंत्री ने दिया जवाब


पिछले पांच दशक से भी ज्यादा समय में सबसे बड़े सैन्य टकराव के कारण क्षेत्र में सीमा पर पहले से जारी गतिरोध और भड़क गया है. वर्ष 1967 में नाथू ला में झड़प के बाद दोनों सेनाओं के बीच यह सबसे बड़ा टकराव है. उस वक्त टकराव में भारत के 80 सैनिक शहीद हुए थे और 300 से ज्यादा चीनी सैन्यकर्मी मारे गए थे.