भारत-बांग्‍लादेश (INDvsBAN) टी20 सीरीज की शुरुआत दिल्‍ली के अरुण जेटली स्‍टेडियम में दमघोंटू प्रदूषण के बीच होने जा रही है. शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) पर दो साल का प्रतिबंध लगने के बाद बांग्‍लादेश की टीम नए कप्‍तान महमूदुल्‍लाह (Mahmudullah) के नेतृत्‍व में मैदान पर उतरेगी. भारत के दिग्‍गज सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का मानना है कि शाकिब की गैर मौजूदगी का मतलब साफ तौर पर मेहमान टीम का मैदान में एक विकट गिरने के बाद उतरने के समान है.

पढ़ें:- दिल्‍ली के 19 वर्षीय तेज गेंदबाज ने रोहित-शिखर को नेट्स में किया आउट, शास्‍त्री बोले…

मौजूदा समय में शाकिब अल हसन आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर-1 ऑलराउंडर हैं. टी20 रैंकिंग की बात की जाए तो वो ऑस्‍ट्रेलिया के ग्‍लेन मैक्‍सवेल के बाद दूसरे स्‍थान पर हैं. टेस्‍ट क्रिकेट में भी शाकिब का जलवा कायम हैं. वो आईसीसी टेस्‍ट रैंकिंग में जेसन होल्‍डर, रवींद्र जडेजा के बाद नंबर-3 ऑलराउंडर हैं.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान गौतम गंभीर ने कहा, “मुझे भारत-बांग्‍लादेश टी20 क्रिकेट में काफी करीबी मुकाबले की उम्‍मीद थी, लेकिन शाकिब अल हसन की गैर मौजूदगी का मतलब है कि भारतीय टीम पहले ही एक विकेट के फायदे के साथ खेल रही होगी.”

पढ़ें:- टी20 विश्व कप से पहले सभी विभाग मजबूत करना चाहती है टीम इंडिया : रोहित शर्मा

गंभीर ने कहा, “ऐसी स्थिति में बांग्‍लादेश की टीम का एक विकेट पहले ही गिर चुका माना जाने जैसा है. साथ ही यह भी माना जाए कि भारत को 40 रन का फायदा है. आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए मैं शाकिब के साथ खेल चुका हूं. मुझे पता है कि अपने दिन पर वो क्‍या कर सकता है.”

गौतम गंभीर का मानना है कि शाकिब पर लगे दो साल के प्रतिबंध की खबर सुनने से पहले उन्‍हें लग रहा था कि बांग्‍लादेश के खिलाफ टी20 सीरीज साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज से बेहतर रहेगी. गौतम गंभीर ने दिल्‍ली में भयंकर प्रदूषण के बावजूद भी बांग्‍लादेश द्वारा इसके प्रति कड़ी प्रतिक्रिया नहीं देने पर उनकी तारीफ की.