भारतीय टीम (Team India) के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने शनिवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) पर संयुक्त राष्ट्र जनरल एसेम्बली (UNGA) में दिए गए उनके भाषण पर चुटकी ली और उसकी तुलना भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के भाषण से की। Also Read - Indian Railways: पीएम मोदी आज आठ ट्रेनों को दिखाएंगे हरी झंडी, जानें क्यों हो रही इनकी चर्चा

गंभीर ने ट्वीट किया, “हर देश को 15 मिनट का समय दिया गया था। इसमें कोई क्या करता है, ये उसका चरित्र और बौद्धिकता बताता है। नरेंद्र मोदी ने जहां शांति और विकास की बात की वहीं पाकिस्तानी सेना की कठपुतली ने न्यूक्लियर वॉर की धमकी दी। ये वही शख्स है, जिसने कश्मीर में शांति को बढ़ावा देने की बात कही थी।” Also Read - गौतम गंभीर ने कहा- इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जसप्रीत बुमराह को आराम दिया जाय

पीएम मोदी ने यूएनजीसीए में कहा था कि भारत ने दुनिया को युद्ध नहीं बुद्ध दिया है जबकि इमरान ने लड़ाई की बात को तरजीह दी। सोशल मीडिया पर दोनों ही देशों के पीएम के भाषणों की खूब चर्चा हुई। Also Read - पाकिस्तान में 'हुबारा बस्टर्ड' का शिकार करेगा दुबई का शाही परिवार, इमरान खान ने अंतरराष्ट्रीय नियम तोड़ कर दी अनुमति

वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप : सेमीफाइनल में जगह बनाने से चूकीं दुती चंद

क्रिकेट से संन्यास लेकर राजनीति में उतरे गंभीर भारतीय सेना और उससे जुड़े मामलों को लेकर शुरुआत से ही आवाज उठाते रहे हैं। गंभीर सुकमा हमले में मारे गए जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने की जिम्मेदारी ली है। वहीं भारत-पाकिस्तान मामले को लेकर पूर्व क्रिकेटर शाहिद आफरीदी (Shahid Afridi) और गंभीर के बीच सोशल मीडिया पर काफी बहस भी हो चुकी है।