नई दिल्‍ली: क्रिकेट एक्‍सपर्ट और कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने कहा है कि दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की टीम को कप्‍तान बदलने से ज्‍यादा फायदा नहीं होगा. उनका मानना है कि दिल्‍ली के खराब प्रदर्शन का कारण टीम के बल्‍लेबाजों का फ्लॉप होना है. जब तक इसमें सुधार नहीं होगा, नए कप्‍तान श्रेयस अय्यर भी कुछ खास नहीं कर पाएंगे. Also Read - कप्तान अजिंक्य रहाणे के पूछने पर गाबा टेस्ट में चोट के साथ गेंदबाजी को तैयार थे नवदीप सैनी

Also Read - Gautam Gambhir Donated One Crore Rupees for Ram Mandir: गौतम गंभीर ने राम मंदिर के लिए 1 करोड़ रुपए दान दिए, कही ये बात

मांजरेकर ने यह भी कहा है कि केवल बल्‍लेबाज के रूप में गंभीर का टीम में ज्‍यादा महत्‍व नहीं है. फ्रेंचाइजी ने उन्‍हें बल्‍लेबाजी से ज्‍यादा कप्‍तानी के लिए चुना था. अब कप्‍तानी छोड़ने के बाद ऐसे कयास लग रहे हैं कि उन्‍हें टीम से बाहर भी किया जा सकता है. Also Read - गौतम गंभीर ने कहा- इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जसप्रीत बुमराह को आराम दिया जाय

इस आशंका का कारण आईपीएल के इस सीजन में गंभीर की खराब बल्‍लेबाजी है. लीग के छह मुकाबलों में उन्‍होंने 85 रन ही बनाए हैं. किंग्‍स इलेवन पंजाब के खिलाफ पहले मैच में 55 रन की पारी खेलने के बाद वे एक बार ही दोहरे अंकों में पहुंचे हैं.

IPL के 3 धुरंधर, वर्ल्डकप मांगे जेब के अंदर !

मौजूदा सीजन में गंभीर न तो क्रीज पर टिक पा रहे हैं, न ही खुलकर रन बना पा रहे हैं. उनका स्‍ट्राइक रेट 96.59 है. यानी वे हर गेंद पर एक रन भी नहीं बना पा रहे. इस सीजन में 40 से ज्‍यादा गेंदें खेलने वाले सभी बल्‍लेबाजों में उनका स्‍ट्राइक रेट सबसे कम है. इतना ही नहीं, वे जितनी देर क्रीज पर टिके हैं, दूसरे छोर के बल्‍लेबाज पर भी दबाव बढ़ा है, क्‍योंकि एक छोड़ पर गंभीर जहां 96.59 की स्‍ट्राइक रेट से बल्‍लेबाजी कर रहे हैं, नॉन स्‍ट्राइकर बल्‍लेबाज 151.02 की स्‍ट्राइक रेट से रन बना रहे हैं.

गंभीर के मुकाबले दिल्‍ली टीम के दूसरे बल्‍लेबाजों का स्‍ट्राइक रेट काफी अच्‍छा है. श्रेयस अय्यर जहां 137.27 और ग्‍लेन मैक्‍सवेल 166.07 की स्‍ट्राइक रेट से रन बना रहे हैं, वहीं इस सीजन में टीम के सबसे भरोसेमंद बल्‍लेबाज रिषभ पंत 170 से भी ज्‍यादा की स्‍ट्राइक रेट से विपक्षी गेंदबाजों के खिलाफ रन जुटा रहे हैं.

IPL-11 की दो ‘ड्रामेबाज’ टीम, एक ‘चेजर’ दूसरा ‘डिफेंडर’

हालांकि, मांजरेकर का मानना है कि गंभीर की बल्‍लेबाजी की चर्चा ज्‍यादा हो रही है क्‍योंकि टीम के दूसरे बल्‍लेबाज अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं. यह काफी हद तक सही भी है क्‍योंकि पंत और श्रेयस के अलावा कोई बल्‍लेबाज अब तक लंबी पारी नहीं खेल पाया है. जेसन रॉय ने मुंबई के खिलाफ बड़ी पारी खेलकर टीम को जीत जरूर दिलाई थी लेकिन फिलहाल वे चोट के चलते टीम से बाहर हैं.

दिल्‍ली का अगला मुकाबला शुक्रवार को कोलकाता के खिलाफ है. देखने यह है कि टीम मैनेजमेंट गंभीर के बारे में क्‍या फैसला करती है.