भारतीय टीम के कप्‍तान विराट  कोहली (Virat Kohli) को मौजूदा समय में विश्‍व क्रिकेट के शीर्ष क्रिकेटर्स में शुमार किया जाता है. विराट का शानदार प्रदर्शन और आंकड़े खुद इसकी गवाही देते हैं. हालांकि पूर्व सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) मौजूदा समय के सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी के तौर पर विराट को नहीं बल्कि इंग्लिश ऑलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स (Ben Stokes) को देखते हैं.Also Read - IPL Auction 2022: मेगा ऑक्शन में हिस्सा नहीं लेंगे बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर, क्रिस गेल

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि विश्व क्रिकेट में कोई भी खिलाड़ी इंग्लैंड के  बेन स्टोक्स (Ben Stokes) के करीब नहीं है. इंग्लैंड को विश्व चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले स्टोक्स ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में 176 रन की शानदार पारी खेल कर अपनी टीम को जीत दिलायी. उन्होंने इस टेस्ट सीरीज के शुरुआती दो मैचों में 313 रन बनाने के साथ नौ विकेट भी लिये हैं. Also Read - क्या वनडे कप्तानी छिनने के चलते Virat Kohli ने छोड़ी टेस्ट की कमान!, Gautam Gambhir ने बताई पूरी बात

गौतम गंभीर ने कहा, ‘‘ आप इस समय किसी भारतीय क्रिकेटर से बेन स्टोक्स की तुलना नहीं कर सकते हैं. बिल्कुल भी नहीं, क्योंकि बेन स्टोक्स शानदार लय में हैं.’’ Also Read - IND vs SA- कप्तानी किसी का जन्मसिद्ध अधिकार नहीं, अब रन बनाने की ओर देखें Virat Kohli: Gautam Gambhir

गंभीर से स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ में कहा, ‘‘ उन्होंने टेस्ट क्रिकेट, एक दिवसीय क्रिकेट और टी20 क्रिकेट में जैसा प्रदर्शन किया है वैसा भारत तो छोड़िये, इस समय विश्व क्रिकेट में उनके करीब कोई भी नहीं है. ’’

इस 38 साल के पूर्व खिलाड़ी ने कहा कि स्टोक्स ऐसे खिलाड़ी है जिन्हें कोई भी कप्तान अपनी टीम में रखना चाहेगा.

भारत के लिए 58 टेस्ट खेलने वाले गंभीर ने कहा, ‘‘ वह मैच में प्रभाव छोड़ने वाले ऐसे खिलाड़ी हैं जिसकी जरूरत हर टीम को होती है. किसी भी कप्तान का सपना होगा कि उसकी टीम में स्टोक्स की तरह का खिलाड़ी हो. उनकी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण सब कुछ शानदार है.’’

नियमित कप्तान जो रूट की गैरमौजूदगी में स्टोक्स के नेतृत्व में इंग्लैंड को पहले टेस्ट में हार का सामना करना पड़ा था. स्टोक्स के नेतृत्व गुणों के बारे में बात करते हुए गंभीर ने कहा, ‘‘वह अपनी क्षमता के हिसाब से एक कप्तान ही है. आपको कप्तान होने के लिए कप्तान कहलाने की आवश्यकता नहीं है. आप अपने प्रदर्शन से नेतृत्व करने वाला बन सकते हैं.’’

गंभीर ने कहा, ‘‘ ऐसे में मुझे लगता है कि बहुत सारे खिलाड़ी वास्तव में बेन स्टोक्स से प्रेरणा ले रहे होंगे, लेकिन दुर्भाग्य से, विश्व क्रिकेट में उनकी तरह इस समय कोई नहीं है.’’