भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा आधुनिक क्रिकेट के बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार हैं. कोहली ने जहां क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में अपना लोहा मनवाया है वहीं रोहित लिमिटेड ओवर में खुद को साबित करने में सफल रहे हैं. उधर टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक ओपनर गौतम गंभीर का मानना है कि सीमित ओवरों के प्रारूपों में कोहली की तुलना में रोहित अधिक प्रभाव डालने में सफल रहे हैं. Also Read - शोएब अख्तर ने कहा- कट या पुल शॉट नहीं खेल पाते हैं विराट कोहली

गंभीर ने हालांकि यह भी माना कि कोहली इन प्रारूपों में रोहित से ज्यादा रन बनाएंगे. ‘इंडिया टुडे’ की वेबसाइट के मुताबिक गंभीर ने ‘स्पोर्ट्स तक’ से कहा, ‘सीमित ओवरों के क्रिकेट में इसका ज्यादा महत्व होता है कि कौन अधिक प्रभाव डालता है. कोहली रोहित से ज्यादा रन बनाएंगे, कोहली मौजूदा दौर के खिलाड़ियों में सर्वश्रेष्ठ हैं. लेकिन मैच में प्रभाव डालने के मामले में रोहित उनसे आगे है.’ Also Read - ब्रेट ली की गुजारिश : ऑस्ट्रेलिया नहीं पाकिस्तान, वेस्टइंडीज के खिलाफ दोहरे शतक लगाएं रोहित शर्मा

तब ब्रेट ली ने उड़ा दी थी ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा की नींद, अब इस कंगारू पेसर के सामने आने से लगता है डर Also Read - WATCH: रोहित शर्मा ने जिम का वीडियो पोस्ट कर उड़ाया युजवेंद्र चहल का मजाक

गंभीर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि वह (रोहित) सीमित ओवर के प्रारूप में अभी दुनिया के सबसे अच्छे बल्लेबाज हैं. वह सर्वकालिक महान क्रिकेटर नहीं है लेकिन मौजूदा समय में सीमित ओवरों के प्रारूप के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं. उन्होंने एकदिवसीय में तीन दोहरे शतक लगाने के अलावा एक ही विश्व कप में पांच शतकीय पारी खेली हैं. वह इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जो अगर शतक बना लेते हैं तो लोग कहते है कि दोहरे शतक से चूक गए.’

‘रोहित की सफलता का श्रेय धोनी को’

गंभीर ने रोहित के करियर की सफलता का श्रेय पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को दिया. उन्होंने कहा, ‘रोहित आज जहां हैं, वह एमएस धोनी की वजह से है. एमएस के बारे में एक अच्छी बात यह थी कि वह हमेशा रोहित को बातचीत का हिस्सा बनाकर रखते थे. रोहित जब टीम का हिस्सा नहीं थे तब भी वह बातचीत का हिस्सा होते थे. धोनी ने उन्हें कभी नजरअंदाज नहीं किया.’

गंभीर ने कहा, ‘कप्तान का समर्थन किसी खिलाड़ी को आगे बढ़ाता है.’

‘विराट अविश्वसनीय हैं’

भारत की टी20 विश्व कप (2007) और एकदिवसीय विश्व कप (2011) विजेता टीम के हिस्सा रहे गंभीर ने कहा, ‘दोनों बल्लेबाजों की तुलना करना मुश्किल है. विराट अविश्वसनीय हैं. उनके आंकड़े भी इस बात की गवाही देते है. लेकिन अगर आपकी छवि ऐसी बन जाए कि जब आप शतक बनाए तो लोग कहें की आप दोहरे शतक से चूक गए तो इससे आपके प्रभाव का पता चलता है.’

बल्ले और गेंद से ही नहीं यूनिक हेयरस्टाइल से भी फैंस के दिलों पर राज करते हैं ये क्रिकेटर्स

रोहित ने वनडे में 29 शतक लगाए हैं

33 साल के रोहित ने 224 वनडे में 29 शतक और 49.27 के औसत से 9115 रन बनाए हैं. उनका स्ट्राइक रेट 88.92 है. टी20 इंटरनेशनल में 108 मैच में उन्होंने 2273 रन बनाए हैं. इसमें उनका औसत 32.62 और स्ट्राइक रेट 138.78 है.

कोहली के वनडे में 43 शतक हैं

कोहली ने 248 वनडे में 59.33 के औसत से 11867 रन बनाए है. इस दौरान 31 साल के इस खिलाड़ी ने 43 शतकीय पारी खेली है और उनका स्ट्राइक रेट 93.25 का रहा है. टी20 में भी उन्होंने 82 मैचों में 50.80 की औसत और 138.24 के स्ट्राइक रेट से 2794 रन बनाए हैं.