नई दिल्ली.  जर्मनी फुटबाल संघ के अध्यक्ष रेनहार्ड ग्रिंडल ने कहा कि भले ही जर्मनी ग्रुप स्तर में खराब प्रदर्शन के कारण फीफा विश्व कप से बाहर हो गई है, लेकिन इस वजह से टीम के मुख्य कोच जोआचिम लो को उनके पद से नहीं हटाया जाएगा.  ग्रुप-एफ में बुधवार रात को खेले गए आखिरी मैच में दक्षिण कोरिया ने जर्मनी को 2-0 से मात देकर विश्व कप से बाहर कर दिया. Also Read - भारत हवाई यात्रा के लिए अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन, जर्मनी से 'द्विपक्षीय समझौतों' पर विचार कर रहा

Also Read - भारत लौटेंगे तीन महीने से जर्मनी में फंसे शतरंज चैंपियन विश्वनाथन आनंद

‘फिक्स’ था डिफेंडिंग चैम्पियन जर्मनी का वर्ल्ड कप के ग्रुप स्टेज से बाहर होना! Also Read - आज का दिन जब दुनिया के सबसे बड़े तानाशाह हिटलर ने की थी सुसाइड, बंकर में पत्नी को भी मार दी थी गोली

फीफा विश्व कप के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि जर्मनी को ग्रुप स्तर से ही टूर्नामेंट से वापसी करनी पड़ी हो. दक्षिण कोरिया के खिलाफ मैच से पहले ही अध्यक्ष रेनाहार्ड ने यह साफ कर दिया था कि आखिरी ग्रुप मैच का परिणाम जो भी होगा, जोआचिम कोच पद पर बने रहेंगे.

रेनहार्ड ने कहा, “हमने डीएफबी की कार्यकारी समिति की बैठक में ही विश्व कप टूर्नामेंट से पहले जोआचिम के करार में विस्तार का फैसला कर लिया था. यह साफ है कि जोआचिम की जिम्मेदारी को उनसे बेहतर कोई नहीं निभा सकता.”

5 बार के वर्ल्ड चैम्पियन ब्राजील के आगे सर्बिया का सरेंडर, 2-0 से हारे

अध्यक्ष ने कहा कि जोआचिम ने कन्फेडरेशन कप में यह साबित कर दिया था कि वह युवा खिलाड़ियों को एक टीम में तब्दील करने की क्षमता रखते हैं. जहां तक संघ का मानना है यह उसके लिए अहम है.