दक्षिण अफ्रीकी टीम (South के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ (Graeme Smith) जल्द क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के नए डॉयरेक्टर बन सकते हैं। सीएसए के अध्यक्ष क्रिस नेन्जानी ने रविवार को दिए बयान में इस बात की पुष्टि की।

नेन्जानी ने बोर्ड बैठक के बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “मुझे ये बताते हुए बेहद खुशी हो रही है कि हमने ग्रीम स्मिथ से चर्चा की है और मैं इस बात की पुष्टि कर रहा हूं कि अगले हफ्ते बुधवार तक कॉन्ट्रेक्ट की शर्तों से जुड़ी सारी बातें हो जाएंगी।”

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के लिए एक बेहद मुश्किल और विवादों से भरे हफ्ते के बाद हुआ। जिस दौरान पांच प्रमुख पत्रकारों ने अपनी मान्यता वापस ले ली और एक प्रमुख प्रायोजक ने घोषणा की कि वो सीएसए के साथ अपने कॉन्ट्रेक्ट को आगे नहीं बढ़ाएंगे। इसी दौरान सीएसके के मुख्य कार्यकारी थबांग मोरो को निलंबित किया गया।

IND vs WI: भारत-वेस्टइंडीज, दूसरे टी20 की लाइव स्ट्रीमिंग

अगर स्मिथ इस पद पर काम करने के लिए सहमत हो जाते हैं, तो उसके पास 26 दिसंबर से सेंचुरियन में इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली चार टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले चयन पैनल और कोचिंग स्टाफ को चुनने के लिए सिर्फ दो सप्ताह का समय होगा।

नेन्जानी का कहना है कि मोरो को निलंबित करने के पीछे की एक वजह थी, स्मिथ का उन पर विश्वास ना करना। ये पूर्व दिग्गज को मोरो के तीन महीने कार्यकाल के दौरान उनके काम करने के तरीके से खास प्रभावित नहीं था।

बता दें कि दक्षिण अफ्रीका में जन्में पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर केविन पीटरसन ने पहले ही स्मिथ को डॉयरेक्टर बनाए जाने की पैरवी की थी। सीएसके के संकट को देखते हुए पीटरसन ने ट्वीटर के जरिए बोर्ड को इस परेशानी का हल दिया।

पीटरसन ने ट्वीट कर कहा है कि स्मिथ डॉयरेक्टर बनाए जाने के साथ साथ जैक फॉल को नया सीईओ, मार्क बाउचर को मुख्य कोच, माख्या नतिनी को गेंदबाजी कोच, रॉबिन पीटरसन को स्पिनर गेंदबाजी कोच और जैक कैलिस को टीम सलाहकार बनाया जाय। वैसे पीटरसन के एक ख्वाहिश तो पूरी होने को है, देखना है कि सीएसके का अगला कदम क्या होगा।