न्यूयॉर्क: कनाडा की 19 साल की टेनिस खिलाड़ी बियांका एंड्रेस्कू ने शनिवार को अमेरिका की दिग्गज सेरेना विलियम्स को हराकर साल के चौथे ग्रैंड स्लैम-अमेरिका ओपन का महिला एकल खिताब जीत लिया. इसके बाद बियांका ने सही मायने में कनाडाई होने का परिचय देते हुए अर्थर एश स्टेडियम में मौजूद लोगों से सेरेना को हराने के लिए माफी भी मांगी. 19 साल की बियांका ने बिग हिटिंग का आक्रामक खेल दिखाते हुए सेरेना को सीधे सेट में 6-3, 7-5 से हराकर न सिर्फ अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता बल्कि सेरेना को अपना रिकार्ड 24वां ग्रैंड स्लैम जीतने से रोक दिया. बियांका ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली कनाडाई खिलाड़ी हैं.

पत्रकार ने की छोटी सी गलती और देने पड़ गए एक बोतल बियर के लिए 49 लाख रुपए

मैच के बाद बियांका ने स्थानीय खिलाड़ी सेरेना को हराने के लिए दर्शकों से माफी मांगी. बियांका ने मैच के बाद कहा, कि मैं जानती हूं कि आप लोग सेरेना को उनका सातवां अमेरिकी ओपन खिताब जीतते हुए देखने आए थे. इसलिए मैं आपसे माफी मांगती हूं. बगल में खड़ी सेरेना इस बात पर मुस्कुरा उठीं क्योंकि वह जानती थीं कि बियांका ने इतिहास रच दिया है.

अगर धोनी टी20 विश्व कप की टीम में फिट नहीं बैठते तो बोर्ड को उनके संन्यास के बारे में सोचना चाहिए : कुंबले

बियांका ने कहा, मैंने सेरेना जैसी दिग्गज को रोकने की भरपूर कोशिश की और इस प्रयास में सफल रही. मैं इतिहास बनाना चाहती थी. मेरा सेरेना को इतिहास बनाने से रोकने का कोई इरादा नहीं था. मैं अपने सपने को जीना चाहती थी क्योंकि मैने हमेशा सेरेना के खिलाफ फाइनल खेलने का सपना देखा था. मैं हर दिन इस सपने को जीती थी और मेरा मानना है कि लगातार अपने सपने को पीछे भागने के कारण ही मैं इसे सच कर सकी.”

21 साल की उम्र में अगर धोनी की जगह लेने के बारे में सोचूंगा तो बहुत मुश्किल हो जाएगी : पंत

37 साल की सेरेना को लगातार दूसरे साल फ्लशिंग मिडोस (अमेरिका ओपन) के फाइनल में हार मिली है. बीते साल जापान की नाओमी ओसाका ने उन्हें हराया था. अब सेरेना को सबसे अधिक 24 ग्रैंड स्लैम जीतने के मारगरेट कोर्ट के रिकार्ड की बराबरी करने के लिए जनवरी में होने वाले साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन ओपन तक का इंतजार करना होगा.

वर्ल्ड कप में रनों का अंबार लगाने वाले वार्नर एशेज में रन बनाने को तरसे, लगाई शून्य पर आउट होने की हैट्रिक

दूसरी ओर, बियांका ओपन एरा में अमेरिकी ओपन के मेन ड्रा टूनार्मेंट डेब्यू के बाद खिताब जीतने वाली पहली महिला बन गई हैं. 1968 में इस टूनार्मेंट की शुरुआत हुई थी. बियांका ने अब तक अपने करियर में सिर्फ चार मेजर टूनार्मेंट में हिस्सा लिया है. 19 साल की बियांका 2004 में अमेरिकी ओपन खिताब जीतने वाली रूस की स्वेतलाना कुज्नेत्सोवा के बाद ग्रैंड स्लैम जीतने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बन गई हैं.