भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली मौजूदा समय में युवा खिलाड़ियों के रोल मॉडल हैं. कोहली ने टीम में फिटनेस के नए मानक तय किए हैं. टीम इंडिया के टेस्ट बल्लेबाज हनुमा विहारी का कहना है कि उन्होंने मैच से पहले कोहली की तैयारी से काफी कुछ सीखा है. विहारी ने इंस्टाग्राम पर कहा, ‘कोहली के खेल का सबसे अच्छा हिस्सा उनकी तैयारी है. मैंने उनसे काफी कुछ सीखा है. उनकी कार्यशैली भी अद्भुत है. Also Read - Virat Kohli-Anushka Sharma ने फैंस की मदद से जुटाए 11 करोड़ रुपये

शिखर धवन ने चेतेश्वर पुजारा को किया ट्रोल, बोले- हमें तो पता ही नहीं था कि… Also Read - Prithvi Shaw में दूसरा Virender Sehwag बनने की क्षमता: पूर्व चयनकर्ता

विहारी ने न्यूजीलैंड दौरे पर 2 मैचों की सीरीज के दूसरे और अंतिम टेस्ट में 55 रन बनाए थे. लेकिन घरेलू परिस्थितियों में जब टीम एक अतिरिक्त गेंदबाज के साथ जाने का फैसला करती है तो नंबर छह के बल्लेबाज की जगह नहीं बन पाती. Also Read - अगर बॉलिंग नहीं कर सकते Hardik Pandya तो छोटे फॉर्मेट में भी फिट नहीं: पूर्व सिलेक्टर

इसके बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘मैं टीम के लिए कुछ भी करने को तैयार हूं. जब हम विदेश में खेलते हैं तो मैं हमेशा रन बनाने की कोशिश करता हूं और लंबी पारी खेलने की कोशिश करता हूं. मैं हमेशा टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करता हूं.’

बुमराह बोले-मेरे एक्शन पर सवाल उठाने वालों को लगा कि मैं भारत के लिए नहीं खेल पाऊंगा

खुद पर टेस्ट बल्लेबाज का टैग लगने को लेकर विहारी ने कहा, ‘मैं इस चीज को नहीं बदल सकता कि लोग मेरे बारे में क्या सोचते हैं. मुझे लगातार रन बनाना है और यही विचार मेरे दिमाग में रहता है. मेरा मानना है कि मेरे अंदर सभी प्रारूपों में खेलने की योग्यता है.’

गौरतलब है कि हनुमा ने भारत की ओर से अब तक 9 टेस्ट मैचों में 552 रन बनाए हैं.