नई दिल्ली.  इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट मैच में डेब्यू करने वाले हनुमा विहारी आगामी ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए गेंद को छोड़ने और शॉर्ट गेंद से निपटने का अभ्यास कर रहे हैं. विहारी ने अपने पहले टेस्ट में 56 रन बनाये थे लेकिन उसके बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में उन्हें प्लेइंग XI में मौका नहीं मिला. उन्होंने कहा, ‘‘वेस्टइंडीज के खिलाफ मुझे मौका नहीं मिला इसलिए मैंने उस समय का इस्तेमाल ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए नेट पर अभ्यास करके किया. हमने पिच पर एक रैंप रखा था, जिससे गेंद को ज्यादा उछाल मिले.’’ Also Read - India vs Australia: चोटिल Navdeep Saini को स्कैन के लिए भेजा गया

Also Read - Rohit Sharma ने बिग बॉस के तेलगू वर्जन के विजेता Abhijeet को ब्रिसबेन टेस्‍ट से पहले मिलाया फोन, दिया ये तोहफा

धोनी को वाइजैैग का ‘मैदान’ पसंद है, विराट को ‘शहर’ पसंद है Also Read - IND vs AUS 4th Test Live Streaming: जानें कब और कहां देखें भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच चौथे टेस्ट का LIVE टेलीकास्ट और ऑनलाइन स्ट्रीमिंग

ऑस्ट्रेलिया की तैयारी में विहारी

विहारी ने कहा, ‘‘ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मैंने महसूस किया है कि गेंदबाज छोटी गेंद कर बल्लेबाजों की परीक्षा लेते हैं. लोग कहते है कि ऑस्ट्रेलिया की पिचों पर गति और उछाल अधिक होती है. इसलिए मुझे इसका अभ्यास करना होगा. ऐसे में गेंद को छोड़ना जरूरी होता है और मुझे उम्मीद है कि वहां अच्छा प्रदर्शन करूंगा.’’ विहारी ने देवधर ट्राफी में भारत ए पर भारत बी की 43 रन से जीत में अहम भूमिका निभाई. उन्होंने 87 रन बनाये और टीम के सर्वोच्च स्कोरर रहे.

दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया का ‘टेस्ट’

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारतीय टीम को पहला टेस्ट मैच छह दिसंबर से एडिलेड में खेलना है और उसकी तैयारियों के लिए अब ज्यादा समय नहीं बचा है ऐसे में विहारी को उम्मीद है कि उन्हें न्यूजीलैंड दौरे पर जाने वाली भारत ए टीम जगह मिलेगी. इस दौरे के लिए टेस्ट टीम के नियमित सदस्य अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा को भी टीम में जगह मिलने की संभावना है.