नई दिल्लीः क्रिकेट विश्व कप 2019 से पहले ही भारतीय क्रिकेट टीम में नंबर चार के बल्लेबाज को लेकर कई सारे सवाल उठ रहे थे लेकिन विश्व कप के मैचों में लगातार जीत से इन सब बातों में कुछ हद तक विराम लग गया था लेकिन सेमिफाइनल की हार ने फिर से इन सवालों को उठा दिया. फिलहाल अभी भारतीय टीम उस हार को भुलाकर आगे बढ़ चुकी है और टीम ने वेस्टइंडीज में शानदार खेल दिखाते हुए टी20, वनडे और टेस्ट तीनों ही सीरीज अपने नाम की. भारतीय टीम में नंबर चार के बल्लेबाज को लेकर अक्सर ही कशमकश की स्थिति बनी रहती है और अभी तक टीम को इसका कोई ठोस उपाय नहीं मिल पाया है.

चैलेंज देकर जब खुद ही मुश्किल में फंस गए थे अब्दुल कादिर, सचिन ने इतने छक्के मार दिया था जवाब

हाल ही में नंबर चार के बल्लेबाज को लेकर पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने अपनी राय व्यक्त की लेकिन उनकी यह राय पूर्व बल्लेबाज युवराज सिंह को रास नहीं आई और उन्होंने उनको ऐसा रिप्लाई किया जिससे कई सारे सवाल उठ रहे हैं. हरभजन ने ट्वीट करते हुए चौथे नंबर पर संजू सैमसन को खिलाने कि सिफारिश की थी. उन्होंने कहा था कि नंबर चार पर संजू सैमसन को क्यों नहीं खिलाया जा रहा, उसकी टेक्नीक्स अच्छी हैं और उसे खेल की समझ भी है.


टीम से बाहर चल रहे कार्तिक की मुश्किलें बढ़ीं, इस टीम के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने पर BCCI ने भेजा नोटिस

उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी लिखा कि उसने अपनी पारी के दम पर ही भारत ए को जीत दिलाई है. हरभजन के इस ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए संन्यास ले चुके युवराज सिंह ने लिखा कि भाई भारतीय क्रिकेट टीम का टॉप आर्डर बहुत मजबूत है और टीम को नंबर चार के बल्लेबाज की जरूरत नहीं है. युवराज ने अपने इस ट्वीट के साथ ही स्माइली भी पोस्ट किए.

BAN vs AFG : टेस्ट क्रिकेट के सबसे युवा कप्तान राशिद ने बल्ले के बाद दिखाया फिरकी का जादू, टीम को दिलाई बढ़त

अब युवराज के इस ट्वीट के कई मायने लगाए जा रहे हैं. कुछ लोगों का कहना है कि यह उनका मजाकिया अंदाज है लेकिन कुछ लोगों का मानना है कि युवराज ने अपने ट्वीट के माध्यम से भारतीय क्रिकेट टीम के मैनेजमेंट और बोर्ड पर निशाना साधा है. आपको बता दें कि जब युवराज सिंह ने क्रिकेट विश्व कप के दौरान क्रिकेट से संन्यास लिया था तब ऐसी खबरें आईं थी कि विश्व कप टीम का हिस्सा न बन पाने के कारण ही उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहा था.