नई दिल्ली: ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने टीम इंडिया के दो मौजूदा सदस्‍यों हार्दिक पांड्या और केएल राहुल को जमकर लताड़ लगाई है. एक टीवी चैट शो में उनकी टिप्‍पणियों के बाद हरभजन ने कहा है कि भारतीय क्रिकेट टीम कल्‍चर की बात करने वाले वे होते कौन हैं. उन्‍हें टीम में शामिल हुए अभी ज्‍यादा समय नहीं हुआ, लेकिन उनके बयानों से टीम इंडिया के सभी मौजूदा और पूर्व खिलाडि़यों की छवि पर असर पड़ा है.

हरभजन सिंह ने महिलाओं को लेकर की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों के लिये पांड्या और राहुल की कड़ी आलोचना की और कहा कि उन्होंने क्रिकेटरों की साख को दांव पर लगा दिया. इन दोनों ने एक टीवी कार्यक्रम में हिस्सा लिया था जिसमें विशेषकर पांड्या की टिप्पणियों की कड़ी आलोचना की जा रही है और इससे टीम संस्कृति को लेकर चिंता जताई जा रही है.

ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज: वर्ल्‍ड कप से पहले इन तीन सवालों के जवाब चाहेगी टीम इंडिया

कप्तान विराट कोहली ने भी उनकी टिप्पणियों को अनुचित करार दिया जिसके कुछ घंटे बाद ही पांड्या और राहुल को भारतीय क्रिकेट के प्रशासकों की समिति (सीओए) ने निलंबित कर दिया. हरभजन ने कहा, ‘‘हम यहां तक कि अपने दोस्तों के साथ इस तरह की बातें नहीं करते और वे सार्वजनिक तौर पर टेलीविजन पर ऐसी बातें कर रहे थे. अब लोग सोच सकते हैं कि क्या हरभजन सिंह ऐसे ही थे, क्या अनिल कुंबले ऐसे ही थे और क्या सचिन तेंदुलकर …..’’

पांड्या हुए बाहर तो इस ऑलराउंडर को टीम इंडिया में मिलेगी जगह, कोहली ने किया पक्का

पांड्या ने कार्यक्रम के दौरान कई महिलाओं के साथ संबंध होने का दावा किया और यह भी बताया कि वह इस मामले में अपने परिजनों के साथ भी खुलकर बात करता है. राहुल अपने संबंधों के बारे में जवाब देने में हालांकि अधिक संयमित दिखे. जब कार्यक्रम के होस्‍ट करण जौहर ने पूछा कि क्या उन्होंने ‘ऐसा साथियों के कमरे में किया’ तो पांड्या और राहुल दोनों ने हां में जवाब दिया.

सिडनी वनडे में नहीं खेल पायेंगे पांड्या-राहुल, लौटना होगा भारत

हरभजन ने कहा, ‘‘पांड्या कब से टीम में है जो वह टीम संस्कृति को लेकर इस तरह से बात कर रहा है.’’ उनसे जब इनके निलंबन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा ही होना चाहिए था. बीसीसीआई ने सही काम किया और यह आगे बढ़ने का तरीका भी है. ऐसी उम्मीद थी और मुझे इस पर हैरानी नहीं हुई.’’