नई दिल्ली : हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या बीते समय में कभी चोट तो तभी विवादास्पद बयानों के कारण चर्चा में रहे, लेकिन मुंबई इंडियंस का यह खिलाड़ी अब सिर्फ खेल पर ध्यान देना चाहता है. पांड्या ने बुधवार देर रात खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया और अपनी टीम को 37 रनों से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई.

पांड्या ने वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए मैच में आठ गेंदों पर 25 रनों की आतिशी पारी खेली और इसके बाद चार ओवरों में 20 रन देकर तीन विकेट लिए. अपने इस प्रदर्शन के दम पर उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. मैच के बाद बात करते हुए पांड्या ने उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा किया जिन्होंने इस मुश्किल समय में उनका साथ दिया.

पांड्या ने कहा, “पहले चोट लगी और उसके बाद विवाद. यह सात महीने आसान नहीं रहे और उस दौरान मुझे पता नहीं था कि क्या करना है. यह अवॉर्ड खास है और मैं इसे उन लोगों को समर्पित करता हूं जिन्होंने मुश्किल समय में मेरा साथ दिया. मेरा काम लगातार अच्छा प्रदर्शन करना है. उम्मीद है कि मैं भारत को विश्व कप दिलाने में मदद कर पाऊंगा.”

कोहली ने धोनी-गंभीर की खास लिस्ट में बनाई जगह, IPL में ऐसा करने वाले तीसरे कप्तान

पांड्या ने कहा कि वह नेट्स में अभ्यास करने के बाद मैच में खेलना चाहते थे. उन्होंने माना कि वह इस समय गेंद को अच्छी तरह मार रहे हैं. उन्होंने कहा, “टीम की जीत में योगदान देकर हमेशा अच्छा महसूस होता है. सात महीने से मैंने प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेली थी. मैं सिर्फ नेट्स में बल्लेबाजी कर रहा था. मैं वैसा खिलाड़ी हूं जो मैच खेलना पसंद करता है. मैं इस समय गेंद को अच्छा मार रहा हूं.”